S M L

केरल: सबरीमाला फैसले का समर्थन करने वाले पुजारी के आश्रम पर हमला

स्वामी संदीपानंद गिरी के आश्रम के सामने खड़ी दो कारों और एक स्कूटर को आग लगा दी गई

Updated On: Oct 27, 2018 12:20 PM IST

FP Staff

0
केरल: सबरीमाला फैसले का समर्थन करने वाले पुजारी के आश्रम पर हमला
Loading...

केरल में सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अस्थिरता बनी हुई है.  तिरुवनंतपुरम के एक पुजारी के आश्रम पर शुक्रवार देर रात अज्ञात हमलावरों ने हमला कर दिया. दरअसल, इस पुजारी ने सुप्रीम कोर्ट के सबरीमाला पर दिए गए फैसले का समर्थन किया था.

शुक्रवार की रात ढाई बजे के करीब तिरुवनंतपुरम के बाहरी इलाके में मौजूद स्वामी संदीपानंद गिरी के आश्रम के सामने खड़ी दो कारों और एक स्कूटर को आग लगा दी गई.

केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन घटना के बाद शनिवार को आश्रम पहुंचे और उन्होंने इस घटना की निंदा की. उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि 'विचारों और मतभेदों में भिन्नता को विचारधारा से सुलझाना चाहिए. शारीरिक हमले तब होते हैं, जब आप दूसरी विचारधारा को बर्दाश्त नहीं कर सकते. हम किसी को भी कानून को हाथ नहीं लगाने दे सकते. इसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी. स्वामी संदीपानंद धर्मनिरपेक्ष मूल्यों का प्रचार करते थे और बताते थे कि राजनीति में धर्म का इस्तेमाल कैसे फायदे के लिए किया जा रहा है, इसलिए उनपर ये हमला हुआ है. जनता को ये समझना चाहिए.'

विजयन के साथ मौके पर गए वित्त मंत्री टी एम थॉमस आइजैक ने इस घटना के लिए संघ परिवार को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि वो राज्य में कानून व्यवस्था को बरबाद करना चाहते हैं.

बीजेपी नेता पी के कृष्णादास ने सभी आरोपों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि स्वामी संदीपानंद के आश्रम के हमले में पार्टी का कोई हाथ नहीं है. उन्होंने सीपीआई(एम) पर ही सबरीमाला मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए इस घटना को अंजाम देने का आरोप लगा दिया.

डीजीपी लोकनाथ बेहरा ने कहा कि इस घटना की तिरुवनंतपुरम के पुलिस कमिश्नर के अंडर में बनी टीम जांच करेगी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi