S M L

राजस्थान सरकार को नहीं लानी चाहिए थी भामाशाह योजना: अशोक गहलोत

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान भाजपा सरकार को भामाशाह योजना लानी ही नहीं चाहिए थी.

Updated On: Sep 16, 2018 07:16 PM IST

Bhasha

0
राजस्थान सरकार को नहीं लानी चाहिए थी भामाशाह योजना: अशोक गहलोत

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के जरिए लाई गई भामाशाह योजना पर कांग्रेस ने निशाना साधा है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश भाजपा सरकार को भामाशाह योजना लानी ही नहीं चाहिए थी, क्योंकि हमने जब इस योजना को लागू किया था उस समय आंध्रप्रदेश की ऐसी ही योजना का अध्ययन किया था, जिसमें बहुत बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार पाया गया था.

गहलोत ने कहा कि प्रदेश बीजेपी सरकार ने अपनी जिद्द को पूरा करने के लिए हमारी योजना को लागू की. जयपुर के हवाई अड्डे पर गहलोत ने कहा कि 'भामाशाह' जैसी योजना आंध्रप्रदेश में भी थी और उस योजना में बड़ा भ्रष्टाचार था. उसमें यह नहीं पता था कि किसका इलाज हो रहा, किस स्तर पर हो रहा और कहां हो रहा है. उन्होंने कहा कि प्रदेश बीजेपी सरकार ने केवल योजनाओं का नाम बदलकर योजनाओं को कमजोर करने का काम किया है.

निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण

उन्होंने कहा कि सरकार भामाशाह योजना लेकर आई है और करोडों रुपए भामाशाह कार्ड बनाने में खर्च किए गए और यह जांच का विषय है. उन्होंने सवाल किया कि जब आधार कार्ड पहले से है तो भामाशाह कार्ड क्यों बनवाए गए. गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण था और उनका पूरा कार्यकाल इतिहास में एक निकम्मी, नकारा और कुशासन के रूप में याद किया जाएगा.

ये है भामाशाह योजना

भामाशाह योजना के जरिए महिलाओं को सशक्त बनाने की पहल शुरू की गई. इस योजना के तहत पैसे की तरह सरकारी लाभ सीधे लाभार्थी के खाते में स्थानांतरित किए जाते हैं. साथ ही सरकारी योजनाओं के जरिए जो पैसा इन लोगों को दिया जाता है वह सीधे परिवार और महिलाओं के नाम पर धन बैंक खाते में जमा होते है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi