S M L

पाकिस्तानी नदी में विसर्जित की जाएंगी वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर की अस्थियां

कुलदीप नैयर की अस्थियां एक समारोह के बाद लाहौर के पास रावी नदी में विसर्जित की जाएंगी.

Updated On: Sep 08, 2018 09:12 PM IST

FP Staff

0
पाकिस्तानी नदी में विसर्जित की जाएंगी वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर की अस्थियां

देश के वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर का निधन पिछले महीने हो गया था. दिल्ली के एक अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली थी. अब कुलदीप नैयर की अस्थियां एक समारोह के बाद लाहौर के पास रावी नदी में विसर्जित की जाएंगी. पाकिस्तान श्रम शिक्षा और अनुसंधान संस्थान (PILER) के जरिए यह जानकारी दी गई.

पीआईएलईआर के जरिए जारी बयान के मुताबिक नैयर की अस्थियां पाकिस्तान में पाकिस्तानी शांति कार्यकर्ताओं के जरिए लाई गई. इसमें पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश (सेवानिवृत्त) नासीर असलम जाहिद, पीआईएलईआर के कार्यकारी निदेशक करमत अली, हाया इमान जहिद और अल्ताफ खोसो वकील भी शामिल थे. कार्यकर्ताओं ने भारत का दौरा किया था और 31 अगस्त, 2018 को भारत इस्लामिक सांस्कृतिक केंद्र, नई दिल्ली में पाकिस्तान-भारत कैदियों के मुद्दे पर एक सम्मेलन में भाग लिया था.

किताबें भी लिखी

भारतीय पत्रकारीता की दुनिया में मशहूर कुलदीप नैयर का जन्म 14 अगस्त, 1923 को सियालकोट (अब का पाकिस्तान) में हुआ था. उन्होंने यूएस से पत्रकारिता की डिग्री ली थी. कई वर्षों तक भारत सरकार के प्रेस सूचना अधिकारी रहने वाले कुलदीप ने बाद में पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखा. कुलदीप नैयर पत्रकारिता जगत में कई दशकों तक सक्रिय रहे. उन्होंने इमरजेंसी से लेकर देश में हुई अन्य प्रमुख घटनाओं पर कई किताबें भी लिखी हैं.

बता दें कि यह पहली बार नहीं था कि किसी भारतीय की अस्थियां पाकिस्तान की किसी नदी में विसर्जित की जा रही हों. साल 2008 में भारतीय शांति और मानवाधिकार कार्यकर्ता निर्मला देशपांडे की अस्थियां भी पाकिस्तान की नदी में विसर्जित की गई थीं. दरअसल, उन्होंने विभिन्न एशियाई देशों में अपनी अस्थियां विसर्जित करने की इच्छा व्यक्त की थी क्योंकि वह हमेशा दक्षिण एशिया को परमाणु हथियारों से मुक्त क्षेत्र बनाना चाहते थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi