S M L

जानिए आसाराम के जेल से फेसबुक लाइव का सच

आडियो संदेश से ऐसा लग रहा था कि आसाराम प्रवचन दे रहा है. जेल के एक अफसर ने इस बात की पुष्टि की है कि है

FP Staff Updated On: Apr 28, 2018 09:55 PM IST

0
जानिए आसाराम के जेल से फेसबुक लाइव का सच

नाबालिग से दुष्कर्म मामले में उम्रकैद की सजा मिलने के बाद आसाराम का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. आसाराम ने अपने समर्थकों के नाम फेसबुक पर मैसेज शेयर किया है. जिसमें उसने कहा है कि उसके साथ साजिश की गई है. फेसबुक पर दिए गए संदेश में उसने कहा, 'मेरे साथ साजिश रची गई है, मैं जल्द ही बाहर आऊंगा.' आश्रम के सोशल मीडिया अकाउंट पर तकरीबन एक घंटे तक आसाराम की फोटो के साथ ऑडियो मैसेज चला. हालांकि कुछ देर बाद इसे हटा दिया गया.

आडियो संदेश से ऐसा लग रहा था कि आसाराम प्रवचन दे रहा है. जेल के एक अफसर ने इस बात की पुष्टि की है कि शुक्रवार को आसाराम ने फोन पर एक नंबर पर बात की थी. लेकिन सोशल मीडिया पर ऐसी क्लिप चलने की जानकारी नहीं है. हो सकता है कि उसने फोन पर जो कहा उसे रिकॉर्ड कर लिया गया और सोशल मीडिया पर ऑडियो मैसेज की तरह अपलोड कर दिया गया.

इस ऑडियो टेप में आसाराम न सिर्फ खुद बाहर निकलने की बात कर रहा है बल्कि वो अपने राजदार शिल्पी और शरद को जेल से आजाद कराने का ज़िक्र कर रहा है. शिल्पी छिंदवाड़ा आश्रम की वॉर्डन थी जबकि शरद हॉस्टल का संचालक था.

सोशल मीडिया पर वायरल हुए संदेश में आसाराम ने कहा, 'पहले शरत और शिल्पी को निकलवाएंगे, बाद में हम आ जाएंगे तुम्हारे बीच. जितनी बड़ी गाज गिरती है, उतने बड़े रास्ते भी बन जाते हैं. मेरे साधक मेरी बात मान कर जोधपुर नहीं आए, इसलिए साजिश करने वाले सफल नहीं हो पाए. सिर्फ लक्ष्मी, नारायण सांई और भारती ही मेरा परिवार है, ऐसा कहने वाले गलत है, पूरी दुनिया ही मेरा परिवार है, जिसमें लाखों-करोड़ों सदस्य हैं.'

जेल डीआईजी ने माना कि आसाराम ने किया है फोन 

जोधपुर जेल के DIG विक्रम सिंह ने कहा, 'आसाराम ने अहमदाबाद के साबरमती आश्रम को फोन किया और दूसरी तरफ इस कॉल को रिकॉर्ड किया गया और इसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया गया. हम अभियुक्तों द्वारा किए गए सारे कॉल को रिकॉर्ड करते हैं. एक कैदी को एक महीने में 80 मिनट तक कॉल करने की इजाजत होती है.'

स्पेशल कोर्ट के जज मधुसूदन शर्मा ने जोधपुर जेल में लगी अस्थाई अदालत में 77 साल के आसाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई. इसके साथ ही इस मामले में दो और आरोपी शिल्पी और शरद को भी 20 साल की सजा सुनाई. हालांकि आसाराम के वकीलों ने कहा कि वो इस फैसले को लेकर हाईकोर्ट में अपील करेंगे.

बता दें कि आसाराम को उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में रहने वाली एक लड़की के साथ रेप करने के आरोप में सजा मिली है. पीड़िता उत्तर मध्य प्रदेश के छिन्दवाड़ा में आसाराम के आश्रम में पढ़ती थी. उसने अपने बयान में आरोप लगाया था कि आसाराम ने 15 अगस्त 2013 को उसे अपने जोधपुर के मनई आश्रम में बुलाकर उसका रेप किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi