S M L

कम सजा के लिए आसाराम की दलील: 'बूढ़ा हूं और समाज को अच्छे संदेश देता हूं'

दोषी करार दिए जाने के बाद आसाराम की तबियत भी खराब हो गई, जिसके लिए जेल परिसर में एंबुलेंस बुलवाई गई

Updated On: Apr 25, 2018 01:15 PM IST

FP Staff

0
कम सजा के लिए आसाराम की दलील: 'बूढ़ा हूं और समाज को अच्छे संदेश देता हूं'

नाबालिग से रेप के आरोप में 2013 में जेल पहुंचे संत आसाराम बापू को कोर्ट ने दोषी करार दे दिया है. इस केस में आसाराम को कम से कम 10 साल की जेल या उम्रकैद हो सकती है. आसाराम पिछले 4 साल 8 महीने से जेल में है. यदि उसे 10 साल की सुनाई जाती है तो उसे 5 साल 4 महीने और जेल की सजा काटनी होगी.

बुधवार को जोधपुर की निचली अदालत में हुई सुनवाई के दौरान जज मधुसूदन ने ये फैसला सुनाया. आसाराम सुनवाई के लिए 15 मिनट देर से पहुंचा था. खबर आई कि वो बैरक में 15 मिनट तक प्रार्थना करता रहा. कोर्ट में पूरी सुनवाई के दौरान भी आसाराम राम-राम जपता रहा.

बहस पूरी होने के बाद कोर्ट ने आसाराम और उसके 2 अन्य सह-आरोपियों को दोषी करार दे दिया. 2 अन्य व्यक्तियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया. इंडिया टुडे टीवी चैनल के अनुसार फैसला आने के बाद आसाराम हंस रहा था. लेकिन ये खबर भी आई है कि दोषी करार दिए जाने के बाद आसाराम की तबियत भी खराब हो गई, जिसके लिए जेल परिसर में एंबुलेंस बुलवाई गई.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बहस के दौरान आसाराम के पक्ष से वकीलों ने 3 दलीलें रखीं कि सजा सुनाते वक्त आसाराम की उम्र का ध्यान रखा जाए. और आसाराम समाज को अच्छे संदेश देते हैं उनके देश भर में करोड़ों अनुयायी हैं. उनकी धर्म उपदेशक की छवि को ध्यान में रखा जाए. और वकीलों ने ये भी कहा कि आसाराम आदतन अपराधी नहीं हैं उनसे  आम अपराधियों जैसा सलूक न हो.

मई 2013 में यूपी के शाहजहांपुर की रहने वाली एक नाबालिग लड़की ने आसाराम बापू पर जोधपुर के बाहरी इलाके में स्थित उनके आश्रम में उसका यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. घटना के वक्त लड़की की उम्र 16 साल थी. इसके बाद पीड़ित लड़की की शिकायत पर दिल्ली के कमला मार्केट थाने में आसाराम के खिलाफ रेप और यौन शोषण का जीरो एफआईआर दर्ज हुआ था. यहां से इसे बाद में जोधपुर ट्रांसफर कर दिया गया. आसाराम पर पॉक्सो और एससी/एसटी ऐक्ट के तहत कानून की धाराएं लगाई गई हैं. पुलिस ने 31 अगस्त, 2013 को आसाराम को इंदौर से गिरफ्तार किया था. तब से वो जोधपुर के सेंट्रल जेल में बंद है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi