S M L

मोदी जितने लोकप्रिय होंगे, मॉब लिन्चिंग की घटनाएं बढ़ेंगी: मेघवाल

असदुद्दीन ओवैसी ने अलवर की घटना को लेकर मोदी सरकार पर प्रहार किया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'गाय को संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत जीने का अधिकार है और एक मुस्लिम को मारा जा सकता है. मोदी शासन के 4 साल- लिंच राज'

FP Staff Updated On: Jul 21, 2018 12:48 PM IST

0
मोदी जितने लोकप्रिय होंगे, मॉब लिन्चिंग की घटनाएं बढ़ेंगी: मेघवाल

राजस्थान के अलवर में अकबर खान नाम के एक अधेड़ व्यक्ति की गोतस्करी के आरोप में पीट-पीटकर हत्या को लेकर राजनीति शुरू हो गई है. केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि यह सब मोदी विरोध में सुनियोजित ढंग से करवाया जा रहा है.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार मेघवाल ने कहा, 'मोदी जितने लोकप्रिय होते जाएंगे, देश में ऐसी घटनाएं बढ़ती जाएंगी. बिहार चुनाव में यह 'अवार्ड वापसी' था, यूपी चुनाव में मॉब लिन्चिंग. अब 2019 के चुनाव में कुछ और होगा.' उन्होंने कहा, मोदी जी ने योजनाएं दी हैं और उसका असर दिख रहा है, यह (अलवर घटना) उसी की प्रतिक्रिया है.

मेघलवाल ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि मॉब लिन्चिंग की यह अकेली घटना नहीं है. इसकी वजहों को जानने के लिए इतिहास में जाना होगा. यह क्यों शुरू हुआ, कौन इसे रोके. उन्होंने कहा कि सिखों के साथ 1984 में जो हुआ वो इस देश के इतिहास में सबसे बड़ा मॉब लिन्चिंग था.

वहीं, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस घटना को लेकर मोदी सरकार पर प्रहार किया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'गाय को संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत जीने का अधिकार है और एक मुस्लिम को मारा जा सकता है, क्योंकि उनके 'जीने' का मौलिक अधिकार नहीं है. मोदी शासन के 4 साल- लिंच राज.'

बता दें कि राजस्थान के अलवर जिले में शुक्रवार रात अकबर खान नाम के एक व्यक्ति की गोतस्करी के आरोप में भीड़ ने कथित रूप से पीट-पीटकर हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि मृतक अकबर दो गायों को लेकर जा रहा था. तभी गांव के कुछ लोगों ने गो-तस्करी का आरोप लगाकर उसे मारना-पीटना शुरू कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi