S M L

दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन के उद्घाटन में केजरीवाल को न्यौता नहीं

दिल्ली मेट्रो की नई मैजेन्टा लाइन का उद्घाटन होना है, जिसमें अरविंद केजरीवाल को आमंत्रित नहीं किया गया है

Updated On: Dec 23, 2017 05:13 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन के उद्घाटन में केजरीवाल को न्यौता नहीं

25 तारीख को उत्तर प्रदेश की राजनीति के लिए एक खास दिन साबित होने वाला है क्योंकि उस दिन सूबे का कोई मुख्यमंत्री बिना 'नोएडा अपशकुन' की परवाह किए बगैर नोएडा आ रहा है. योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मेट्रो की नई लाइनों का उद्घाटन करने आ रहे हैं. लेकिन इसी बीच से एक और हैरान करने वाली खबर आ रही है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस पूरे कार्यक्रम के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को न्यौता ही नहीं दिया गया है.

इंडिया टुडे में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो की नई मैजेन्टा लाइन का उद्घाटन होना है, जिसमें अरविंद केजरीवाल को आमंत्रित नहीं किया गया है.

दिल्ली मुख्यमंत्री के ऑफिस की ओर से बयान जारी कर कहा गया है, 'हमारे सरकार की प्राथमिकता आम जनता के लिए सुरक्षित और तर्कपूर्ण सफर सुनिश्चित करना है. इसका जवाब शहरी विकास मंत्रालय और उत्तर प्रदेश सरकार को देना चाहिए कि उन्होंने दिल्ली सीएम को आमंत्रण क्यों नहीं भेजा है.' हालांकि, रिपोर्ट्स की मानें तो डीएमआरसी के अधिकारियों ने इस बात की अभी तक कोई जानकारी नहीं दी है.

डीएमआरसी संबंधित राज्यों के साथ 50-50 वेंचर के तौर पर काम करता है. अत: नोएडा रूट के लिए उत्तर प्रदेश सरकार फंडिंग करती है और दिल्ली रूटों के लिए दिल्ली सरकार. साथ ही डीएमआरसी की केंद्र के साथ भी मानव संसाधन, तकनीकी सुविधाओं और लॉजिस्टिक्स के लिए बराबर भागीदारी है.

उद्घाटित हो रही नई नोएडा-कालकाजी मेट्रो लाइन 12.64 किमी लंबी है. ये नोएडा के बॉटेनिकल गार्डेन मेट्रो स्टेशन से शुरू होकर दिल्ली के कालकाजी मंदिर स्टेशन पर खत्म होती है.

इसी नई लाइन के उद्घाटन के लिए सीएम योगी पीएम मोदी दोनों सोमवार को नोएडा में होंगे. इसके लिए सीएम योगी शनिवार को ही नोएडा में सुरक्षा पैमानों की जांच के लिए नोएडा आ जाएंगे. वो काम-काज के परीक्षण के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं से भी बात करेंगे.

उनकी खुद की सुरक्षा के लिए लगभग 1300 पुलिस औप पैरामिलिट्री जवानों को तैनात किया गया है. सोमवार को पीएम मोदी की सुरक्षा के मद्देनजर 5000 पैरामिलिट्री जवानों की तैनाती की जाएगी.

मुख्य सचिव (औद्योगिक विकास) आलोक सिन्हा और एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार नोएडा में सुरक्षा व्यवस्था पर नजर रख रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi