S M L

44% भारतीय बोलते हैं हिंदी, जानिए कौन सी भाषा है दूसरे नंबर पर

2001 के जनगणना की तुलना में 2011 में देश में हिंदी को अपनी मातृभाषा बताने वालों की संख्या बढ़ी है

Updated On: Jun 27, 2018 03:49 PM IST

FP Staff

0
44% भारतीय बोलते हैं हिंदी, जानिए कौन सी भाषा है दूसरे नंबर पर

देश में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा हिंदी है. 2011 के जनगणना के आधार पर भारतीयों भाषाओं के आंकड़े के अनुसार 43.63 प्रतिशत लोगों की  मातृभाषा हिंदी है. 2001 के जनगणना के मुकाबले हिंदी को अपनी मातृभाषा बताने वालों की संख्या बढ़ी है.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार 2001 में 41.03 प्रतिशत लोगों ने हिंदी को मातृभाषा बताया था जबकि 2001 में इसे बोलने वालों की संख्या 41.03 फीसदी थी. दूसरे नंबर पर बंगाली (बांग्ला) भाषा बरकरार है. वहीं, तेलुगू को पीछे छोड़कर मराठी तीसरे नंबर की बोले जाने वाली भाषा हो गई है.

देश में सूचीबद्ध 22 भाषाओं में संस्कृत सबसे कम बोली जाने वाली भाषा है. भारत की इस सबसे पुरानी भाषा को केवल 24,821 लोगों ने अपनी मातृभाषा बताया है. इसे बोलने वाले लोगों की संख्या बोडो, मणिपुरी, कोंकणी और डोगरी भाषा से भी कम है. 2011 जनगणना के आंकड़े के अनुसार गैर-सूचीबद्ध भाषाओं में लगभग 2.6 लाख लोगों ने अंग्रेजी को अपनी मातृभाषा बताया. इनमें से सबसे अधिक 1.06 लाख लोग महाराष्ट्र में हैं. तमिलनाडु और कर्नाटक इस मामले में क्रमश: दूसरे और तीसरे नंबर पर हैं.

राजस्थान में बोली जाने वाली भिली/भिलौड़ी भाषा 1.04 करोड़ की संख्या के साथ गैर-सूचीबद्ध भाषाओं में पहले नंबर पर है. जबकि दूसरे स्थान पर रहने वाली गोंडी भाषा बोलने वालों की संख्या 29 लाख है.

2001 के जनगणना के मुकाबले 2011 में भारत में बांग्ला को मातृभाषा बताने वालों लोगों की संख्या 8.11 से बढ़कर 8.3 प्रतिशत हो गया है. वहीं मराठी भाषा बोलने वालों की संख्या 2001 में 6.99 प्रतिशत से बढ़कर 2011 में 7.09 फीसदी हो गई है. जबकि इस दौरान तेलुगू भाषा बोलने वाले 7.19 प्रतिशत से घटकर 6.93 रह गए हैं.

इस भाषाई सूची में 2001 (5.01%) में छठे स्थान पर रहने वाला उर्दू 2011 (4.34%) के आंकड़े में गिरकर सातवें नंबर पर आ गया है. जबकि छठवें नंबर पर रहे गुजराती भाषा को देश में 4.74 फीसदी लोग बोलते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi