S M L

सुंजवान में ऑपरेशन खत्म: आतंकी हमले में 5 जवान शहीद, चारों आतंकी ढेर

इस हमले में एक आम नागरिक की भी मौत हुई है. आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है

FP Staff Updated On: Feb 11, 2018 01:38 PM IST

0
सुंजवान में ऑपरेशन खत्म: आतंकी हमले में 5 जवान शहीद, चारों आतंकी ढेर

जम्मू के बाहरी इलाके सुंजवान स्थित सेना के एक शिविर में जवानों का ऑपरेशन खत्म हो गया है. रविवार को सुरक्षाबलों ने इस हमले में शामिल दो और आतंकवादियों को मार गिराया है. लगभग 30 घंटे तक चले इस ऑपरेशन में हमले को अंजाम देने वाले चारों आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया है.

हालांकि इस आतंकवादी हमले में पांच सैनिक भी शहीद हो गए हैं. सेना के दो जूनियर कमिशंड अधिकारी (जेसीओ) सहित कुल 5 जवान शहीद हुए हैं. इस हमले में 6 सैनिक और 3 नागरिक घायल हैं.

फिलहाल इस पूरे इलाके में सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है.

इससे पहले रविवार सुबह सेना ने बताया कि शनिवार रात के दौरान शिविर में कोई गोलीबारी नहीं हुई और उसका फोकस आवासीय परिसर से लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने पर है.

पुलिस के मुताबिक मारे गए आतंकियों के पास से बुलेट प्रूफ जैकेट को भेदने वाली गोलियों सहित बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं. मुठभेड़ में ढेर चारों आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के थे. इनकी पहचान कारी मुश्ताक उर्फ छोटू, मोहम्मद आदिल उर्फ मोहम्मद भाई और मोहम्मद खालिद खान उर्फ राशिद के रूप में हुई है. इनमें से छोटू पिछले एक साल से त्राल में सक्रिय था. आदिल अगस्त 2017 के बाद से सोपोर और पुलवामा में, जबकि राशिद पुलवामा में सक्रिय था.

शनिवार तड़के हथियारबंद आतंकियों ने सेना के इस शिविर को अपना निशाना बनाया था.

चुपके से शिविर में घुसे थे हथियारबंद आतंकी

अधिकारियों ने कहा कि शुक्रवार रात शहर के बाहरी इलाके में चेन्नी के पास स्थित सेना के सुंजवान शिविर के पिछले हिस्से से आतंकवादी वहां दाखिल हुए. खुफिया एजेंसियों ने अफजल गुरु की बरसी पर जैश ए मोहम्मद द्वारा सुरक्षा प्रतिष्ठानों को निशाना बनाए जाने को लेकर पहले ही चेतावनी जारी की थी. अफजल गुरु को नौ फरवरी 2013 को फांसी दी गई थी. अधिकारियों ने बताया कि शिविर के पिछले हिस्से में सैन्यकर्मियों के आवासीय क्वार्टर हैं. आतंकी शायद वहीं निशाना बनाना चाह रहे थे.

स्कूल एहतियातन बंद

वहीं अधिकारियों ने जम्मू शहर में सुंजवाव कैंप के आसपास स्थित सभी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'आतंकी हमले को देखते हुए हमने सुंजवान इलाके में सभी स्कूलों को एहतियातन बंद रखने का आदेश दिया है.'

नाले से कैंप में घुसे आतंकी

जम्मू के पुलिस आईजी एसडी सिंह जांवाल ने बताया, तड़के 4:55 बजे संतरी ने संदिग्ध गतिविधियां देखीं. इसी दौरान संतरी के बंकर पर आतंकियों ने फायरिंग कर दिया, तो संतरी ने भी इस गोलीबारी का माकूल जवाब दिया. यह कैंप 36 ब्रिगेड के तहत पहली जम्मू कश्मीर लाइट इंफेंट्री के अंतर्गत आता है.

क्या कहा गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सेना और अन्य सुरक्षा बल प्रभावी तरीके से अपना काम कर रहे हैं और किसी भी भारतीय का सर कभी भी शर्म से झुकने नहीं देंगे. राजनाथ सिंह ने कहा कि जम्मू में सैन्य शिविर पर हुए हमले पर टिप्पणी करना उचित नहीं है, क्योंकि अभियान अब भी जारी है.

राजनाथ ने शनिवार को कहा, ‘हमें सूचना मिली है कि अभियान अभी चल रहा है. मैं समझता हूं कि जब तक अभियान खत्म नहीं हो जाता है तब तक मेरी तरफ से इस संबंध में टिप्पणी करना उचित नहीं है.'

उन्होंने कहा, ‘आश्वस्त रहिए... हमारी सेना और सुरक्षा बल प्रभावी तरीके से अपना काम कर रहे हैं और अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. वे कभी भी किसी भी भारतीय का सिर शर्म से झुकने नहीं देंगे.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi