S M L

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना को मिला अलग हाईकोर्ट, सीएम नायडू बोले- यह एक ऐतिहासिक दिन

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 26 दिसंबर को आंध्र प्रदेश के अलग हाईकोर्ट के लिए आदेश जारी किए थे

Updated On: Jan 01, 2019 08:37 PM IST

Bhasha

0
आंध्र प्रदेश और तेलंगाना को मिला अलग हाईकोर्ट, सीएम नायडू बोले- यह एक ऐतिहासिक दिन

आंध्र प्रदेश को विभाजित कर तेलंगाना राज्य गठित किए जाने के चार साल से ज्यादा समय के बाद मंगलवार को दोनों प्रदेशों को अपना अलग अलग हाईकोर्ट मिल गया.

न्यायमूर्ति तोत्ततिल बी. राधाकृष्णन ने हैदराबाद में तेलंगाना हाईकोर्ट के पहले मुख्य न्यायाधीश के तौर पर कार्यभार संभाल लिया. वहीं सी प्रवीण कुमार ने विजयवाडा में आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली.

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यपाल ई एस एल नरसिम्हन ने अलग अलग समारोहों में उन्हें शपथ दिलाई. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू अपने अपने राज्यों में समारोह में मौजूद थे.

2014 में तेलंगाना राज्य के गठन के बाद से हैदराबाद स्थित हाईकोर्ट संयुक्त रूप से तेलंगाना और आंध्र प्रदेश दोनों के हाईकोर्ट के तौर पर काम कर रहा था. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 26 दिसंबर को आंध्र प्रदेश के अलग हाईकोर्ट के लिए आदेश जारी किए थे.

राधाकृष्णन को हैदराबाद स्थित राजभवन में तेलंगाना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर शपथ दिलाई गई. नरसिम्हन बाद में अमरावती के पास विजयवाड़ा पहुंचे और कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश सी प्रवीण कुमार को शपथ दिलाई.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने इसे एक ऐतिहासिक दिन बताया. उन्होंने कहा, 'मैं इसको लेकर बहुत खुश हूं कि राज्य में आज विधिक प्रशासन शुरू हो रहा है. हाईकोर्ट के शुरू होने से राज्य के बंटवारे की प्रक्रिया पूरी हो गई, हालांकि कुछ परिसम्पत्तियों का वितरण शेष है.'

चूंकि राज्य की राजधानी में हाईकोर्ट के लिए अस्थायी इमारत अभी तैयार नहीं है इसलिए राज्य सरकार ने विजयवाड़ा में मुख्यमंत्री के शिविर कार्यालय को अस्थायी अदालत परिसर में तब्दील कर दिया है. अस्थायी इमारत के जनवरी के अंत तक जबकि वास्तविक हाईकोर्ट परिसर के निर्माण में और तीन साल लगेंगे.

ये भी पढ़ें: साल का पहला इंटरव्यू: RBI गवर्नर 6 महीने पहले ही छोड़ने वाले थे पद

ये भी पढ़ें: सर्जिकल स्ट्राइक पर जाने से पहले पीएम मोदी ने जवानों से क्या कहा था?

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi