S M L

यूपी में निकला फतवा, जिन्ना का समर्थन न करें मुस्लिम

इस फतवे में यह भी कहा गया है कि जिन्ना की तस्वीर लगाना भी गलत है. जिन्ना मुसलमानों के आदर्श नहीं हैं, वो एक दुश्मन देश के निर्माता हैं

Updated On: May 08, 2018 05:09 PM IST

FP Staff

0
यूपी में निकला फतवा, जिन्ना का समर्थन न करें मुस्लिम

बरेली के दरगाह आला हजरत ने मंगलवार को एक फतवा जारी करके कहा कि कोई भी मुस्लिम मोहम्मद अली जिन्ना का समर्थन न करें और अगर वे ऐसा करते हैं तो तो यह गलत है. इस फतवे में यह भी कहा गया है कि जिन्ना की तस्वीर लगाना भी गलत है. जिन्ना मुसलमानों के आदर्श नहीं हैं, वो एक दुश्मन देश के निर्माता हैं.

इससे पहले अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर खड़े हुए विवाद के बाद प्रमुख मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने भी कहा कि जिन्ना को ‘हमारे पूर्वजों ने आदर्श नहीं माना था और द्विराष्ट्र के उनके सिद्धांत को ठुकरा दिया था और पाकिस्तान के संस्थापक को हम भी आदर्श नहीं मानते.’

मौलाना मदनी ने कहा था, ‘हमारे बुजर्गों ने जिन्ना को अपना आदर्श नहीं माना और न ही उनके सिद्धांत का समर्थन किया बल्कि इस देश में हमारा रहना ही इस बात का सबूत है कि हमने उनके द्विराष्ट्र सिद्धांत को सिरे से खारिज कर दिया. जिन्ना को लेकर हमारी भी वही राय है जो हमारे बुजुर्गों की थी.’

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर को लेकर तब विवाद हुआ जब बीजेपी सांसद सतीश गौतम ने एएमयू के वीसी को पत्र लिखकर पूछा था कि यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर क्यों है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi