S M L

अमृतसर हादसा: सिर कटी लाश का मुआवजा लेने पहुंच गए तीन, DNA टेस्ट के नाम पर खिसके

पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख मुआवजा देने की घोषणा की तो पैसों के लालच में कई लोगों ने इस शव पर अपनी दावेदारी जताई

Updated On: Oct 24, 2018 02:26 PM IST

FP Staff

0
अमृतसर हादसा: सिर कटी लाश का मुआवजा लेने पहुंच गए तीन, DNA टेस्ट के नाम पर खिसके
Loading...

अमृतसर में हुए दर्दनाक रेल हादसे के बाद लगातार आई बुरी खबरों में एक शर्मनाक खबर भी सामने आ रही है. दरअसल, 61 मृतकों में से एक मृतक की पहचान नहीं हो पाई है क्योंकि इस शव का सिर बरामद नहीं हुआ है.

शर्मनाक खबर है ये कि मुआवजे के लालचमें इस सिर कटी लाश पर हक जताने बहुत से लोग आ रहे हैं.

न्यूज18 हिंदी की रिपोर्ट के मुताबिक, जब से पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख मुआवजा देने की घोषणा की तो पैसों के लालच में कई लोगों ने इस शव पर अपनी दावेदारी जताई है. पुलिस भी हैरान है कि इतनी दुखद घटना के बावजूद लोग पैसों के लालच में इस तरह की हरकतें कर रहे हैं.

रिपोर्ट है कि जब इस शव की दावेदारी जताने के पहुंचे तीनों लोगों से जब पुलिस ने डीएनए टेस्ट की बात की तो ये वहां से खिसक गए.

जीआरपी के एसएचओ ने बताया कि डीएनए मैच किए बिना इस मृतक का वारिस घोषित नहीं किया जाएगा. हादसे के बाद से ये शव जीआरपी के पास है. उन्होंने बताया कि काफी तलाश के बावजूद इस शव का सिर नहीं मिल पाया है. वहीं इस शव के पास से कोई ऐसा दस्तावेज भी नहीं मिला है जिससे उसकी शिनाख्त हो सके.

तीन लोग पहुंचे दावेदारी जताने

जीआरपी एसएचओ बलबीर घुम्मण ने बताया कि इस शव की दावेदारी के लिए तीन लोग पहुंचे. दो लोगों से डीएनए जांच की बात की गई तो वो वहां से चुपके निकल गए. वहीं एक महिला भी दावेदारी जताने पहुंची थी जो सही से मृतक का हुलिया नहीं बता पाई और वहां से खिसक गई.

पुलिस ने करवाया शव का डीएनए

पुलिस ने शव का डीएनए टेस्ट करवा दिया है और उसके सैंपल लेकर सुरक्षित रख लिए हैं. इस शव का सिर नहीं मिलने से मृतक के परिजनों को ढूंढने में काफी दिक्कतें हो रही है. ये शव किसका है और मृतक कहां का रहने वाला है, पुलिस इन सवालों के जवाब ढूंढने में लगी है.

बता दें कि 19 अक्टूबर को दशहरे के उत्सव का दिन तब मातम में बदल गया, जब अमृतसर में रावण दहन का प्रोग्राम देख रहे लोगों को दो ट्रेनें काटती हुई निकल गईं. ये लोग उस मैदान के किनारे रेलवे ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे. इस रूह कंपा देने वाले हादसे में 61 लोगों की मौत हो गई थी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi