विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

अमरनाथ आतंकी हमला: जोखिम भरी यात्रा का पहले भी रहा है लहूलुहान इतिहास

28 जून से शुरू हुई 40 दिनों की इस यात्रा में श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए सेना, बीएसएफ, सीआरपीएफ, पुलिस के हजारों कर्मी तैनात हैं

FP Staff Updated On: Jul 11, 2017 11:24 AM IST

0
अमरनाथ आतंकी हमला: जोखिम भरी यात्रा का पहले भी रहा है लहूलुहान इतिहास

10 जुलाई को जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला हुआ. इस हमले में सात लोगों की मौत हो गई और कम से कम 32 लोग घायल हुए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, जम्मू कश्मीर सीएम महबूबा मुफ्ती, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई बड़े नेताओं ने श्रद्धालुओं पर हुए हमले की कड़ी निंदा की है.

28 जून से शुरू हुई 40 दिनों की इस यात्रा में श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए सेना, बीएसएफ, सीआरपीएफ, पुलिस के हजारों कर्मी तैनात हैं. लेकिन फिर भी आतंकी हमला होता है और सात लोगों को जान से हाथ धोना पड़ता है. ऐसा नहीं है कि हमले सिर्फ मोदी सरकार में ही हो रहे हों. बल्कि आतंकियों ने यूपीए के शासनकाल में भी श्रद्धालुओं को कई बार निशाना बनाया है. जानिए कब-कब मासूम श्रद्धालु हुए आतंकियों का शिकार...

2000 में 21 लोग मारे गए

2 अगस्त, 2000 में आतंकियों ने जम्मू कश्मीर में पांच जगहों पर हमला किया, जिसमें 21 अमरनाथ यात्रियों समेत 89 लोग मारे गए. द ट्रीब्यून के मुताबिक, पहलगाम में आतंकियों ने अमरनाथ तीर्थयात्रियों के बेस कैंप पर हमला किया था.

2001 में 13 लोग मारे गए

द हिंदू के मुताबिक, आतंकियों ने कैंप पर ग्रेनेड हमला किया था, जिसमें 13 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 15 लोग जख्मी हुए थे. उसके बाद 20 जुलाई, 2001 को अमरनाथ गुफा के पास अंधाधुंध फायरिंग की थी.

2002 में 11 लोग मारे गए

अमरनाथ यात्रियों पर लगातार तीसरे साल भी आतंकियों ने हमला किया. न्यूज 18 के मुताबिक आतंकियों ने श्रीनगर में एक टैक्सी पर ग्रेनेड फेंका, जिसमें 2 श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी और तीन अन्य घायल हो गए थे. ये श्रद्धालु अमरनाथ गुफा बेस कैंप जा रहे थे. वहीं इसके एक हफ्ते बाद 6 अगस्त को लश्कर के तीन आतंकियों ने पहलगाम में बेस कैंप के भीतर गोलीबारी की थी, जिसमें 9 की मौत हो गई थी और 27 लोग घायल हो गए थे.

2006 में पांच लोग हुए थे घायल

डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, 21 जून, 2006 को आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों की एक बस को निशाना बनाया था. इस ग्रेनेड हमले में 5 लोग घायल हो गए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi