S M L

सभी ‘रोमियो’ और ‘जूलियट’ का दिल्ली में स्वागत है: कपिल मिश्रा

योगी आदित्यनाथ ने सीएम बनने के बाद सबसे पहले एंटी रोमियो स्क्वैड का गठन किया था

Updated On: Mar 26, 2017 10:09 PM IST

FP Staff

0
सभी ‘रोमियो’ और ‘जूलियट’ का दिल्ली में स्वागत है: कपिल मिश्रा

दिल्ली में आम आदमी पार्टी सरकार के मंत्री कपिल मिश्रा ने कहा कि सभी परेशान रोमियो और जूलियट का देश की राजधानी में स्वागत है.

कपिल मिश्रा ने यूपी में चलाए जा रहे एंटी रोमियो स्क्वैड पर चुटकी लेते हुए कहा कि हम सभी प्रेम करने वालों का सम्मान करने के साथ ही उनका अपने राज्य में स्वागत भी करते हैं. आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के साथ ही एंटी रोमियो स्क्वैड का भी गठन हो गया है.

ये स्क्वैड पब्लिक में लड़कियों को छेड़ रहे मनचलों पर कार्रवाई करता है. हालांकि इसके गठन के बाद से ही इसकी आलोचना भी हो रही है. इसी कड़ी में कपिल मिश्रा ने भी यूपी सरकार की नीतियों पर तंज कसा है.

एंटी रोमियो स्क्वैड के काम करने का तरीके पर लगाए प्रश्नचिन्ह

रविवार को मेल टुडे के कल्चर कॉन्क्लेव में बोलते हुए कपिल मिश्रा ने कहा कि हमारे देश की संस्कृति में प्यार और सद्भाव का बहुत ऊंचा स्थान रहा है. कपिल मिश्रा ने कॉन्क्लेव में बताया कि हर साल भारत सरकार की तरफ से दुनिया भर के देशों को एक टूरिज्म कैलेंडर भेजा जाता है. हर बार के कैलेंडर में देश की दो जगहों का स्थान जरूर होता है. ये दो जगहें हैं ताजमहल और खजुराहो. दोनों ही जगहें प्रेम का प्रतीक हैं .

कपिल मिश्रा ने एंटी रोमियो स्क्वैड के काम करने के तरीके पर प्रश्नचिन्ह लगाते हुए कहा कि ये लोग सिर्फ युवाओं को प्रताड़ित कर रहे हैं. पब्लिक में घूम रहे निर्दोष युवाओं को भी रोमियो का टैग लगाकर परेशान किया जा रहा है.

'संस्कृति के नाम पर गुंडागर्दी हो रही है'

कपिल मिश्रा ने ये भी कहा कि दिल्ली राज्य की सरकार देश के सभी रोमियो और जूलियट्स का स्वागत करती है. संस्कृति के नाम पर किसी भी पुलिस को या किसी भी सरकार को गुंडागर्दी करने का कोई हक नहीं है.

19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. सीएम बनने के बाद ही आदित्यनाथ ने जो सबसे पहला फैसला लिया वो एंटी रोमियो स्क्वैड के गठन का लिया.

इसके गठन के साथ ही प्रदेश भर से मनचलों पर कार्रवाई शुरू हो गई. सोशल मीडिया पर जहां योगी आदित्यनाथ के इस फैसले पर लोग तालियां बजा रहे हैं वहीं बहुत से ऐसे भी हैं जो योगी के इस कदम को गलत बता रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi