S M L

दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन पर 'ब्रॉड साइज' के होंगे सभी कोच

मजेंटा लाइन पर 3.2 मीटर की चौड़ाई वाले कोच का परिचालन होगा. इससे स्टैंडर्ड गेज पर चलने वाले डिब्बों की क्षमता की तुलना में 30-40 ज्यादा यात्री सवार हो सकेंगे

Updated On: Dec 24, 2017 05:17 PM IST

Bhasha

0
दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन पर 'ब्रॉड साइज' के होंगे सभी कोच

दिल्ली मेट्रो मजेंटा लाइन के स्टैंडर्ड गेज ट्रैक पर बड़े आकार के डिब्बों का परिचालन करेगी. डीएमआरसी के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दिल्ली मेट्रो रेल नेटवर्क के फेज-3 के तहत सभी कोच ‘ब्रॉड साइज’ के होंगे.

अधिकारी ने बताया, ‘नई मजेंटा लाइन पर 3.2 मीटर की चौड़ाई वाले कोच का परिचालन होगा. इससे स्टैंडर्ड गेज पर चलने वाले डिब्बों की क्षमता की तुलना में 30-40 ज्यादा यात्री सवार हो सकेंगे.’

अधिकारी ने कहा कि ‘इस तरह यह नई मजेंटा लाइन पहला स्टैंडर्ड गेज आधारित कॉरिडोर होगा जहां बड़े आकार के कोच का परिचालन होगा. ब्रॉड गेज लाइन का आकार 5 फुट 6 इंच (1676 एमएम) है और स्टैंडर्ड गेज लाइन का आकार 4 फुट 8.5 इंच (1435 एमएम) है. ये बड़े आकार के डिब्बे नए स्टैंडर्ड लाइन पर आसानी से चल सकेंगे.’

वर्तमान में स्टैंडर्ड गेज कॉरिडोर वाले वॉयलट लाइन (कश्मीरी गेट-एस्कार्ट मुजेसर) और ग्रीन लाइन (कीर्ति नगर-मुंडका) पर 2.9 मीटर चौडाई वाली गाड़ी का परिचालन होता है. जबकि, येलो लाइन (समयपुर बादली-हुडा सिटी सेंटर) और ब्लू लाइन (द्वारका-नोएडा/वैशाली) ब्रॉड गेज लाइनों में है जिस पर बड़े आकार वाले डिब्बों का परिचालन होता है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 दिसंबर को मजेंटा लाइन का शुभारंभ करेंगे. इस लाइन पर कई और चीजों की पहली बार शुरूआत होगी.

नई लाइन में सभी 9 स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर (पीएसडी) होंगे. इसके साथ अत्याधुनिक संकेतक प्रणाली भी होगी जिससे दिल्ली मेट्रो ट्रेनों के फेरे को बढ़ा सकेगी.

मजेंटा लाइन के इस मेट्रो रूट पर बॉटनिकल गार्डन से कालकाजी मंदिर तक 9 स्टेशन हैं. 12.64 किलोमीटर लंबी इस यात्रा को मात्र 19 मिनट में पूरा किया जा सकेगा. दिल्ली मेट्रो फेज-3 प्लान के तहत इस लाइन के शुरू होने से नोएडा और दक्षिण दिल्ली के बीच यात्रा में लगने वाले समय में कमी आएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi