S M L

जेएनयू में नहीं बल्कि डीयू में लगने चाहिए सीसीटीवी कैमरा: AISA

सुचेता डे ने कहा, 'हम फिजूल में सीसीटीवी कैमरों के उपयोग के खिलाफ हैं लेकिन यहां हम महिलाओं की सुरक्षा के लिए इसका समर्थन कर रहे हैं.'

Updated On: Sep 01, 2018 10:25 PM IST

FP Staff

0
जेएनयू में नहीं बल्कि डीयू में लगने चाहिए सीसीटीवी कैमरा: AISA

वामपंथी अखिल भारतीय छात्र संघ (AISA) लंबे समय से चले आ रहे रुख के खिलाफ जाता हुआ प्रतीत हो रहा है क्योंकि उसने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) की बजाय दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में सीसीटीवी कैमरे और पुलिस तैनाती की बात कही है.

दरअसल, दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव के लिए 12 सितंबर को मतदान होना है और चुनाव से पहले एआईएसए, सीपीआई की छात्र इकाई (एम-एल) और आम आदमी पार्टी की छात्र युवा संघ समिति के जरिए जारी किए गए घोषणापत्र में यह बात कही गई है. इस बार का चुनाव तीनों एक साथ लड़ रहे हैं. इस संयुक्त घोषणापत्र के मुताबिक इसमें पुलिस बूथ और सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने की बात कही गई है ताकि गुंडागर्दी को कम किया जा सके.

जेएनयू में छात्रसंघ का नेतृत्व करने वाले एआईएसए ने अलग जगहों पर सीसीटीवी लगाए जाने की आलोचना की है. इसके साथ ही इसे छात्रों की निजता का हनन भी करार दिया है. वहीं उनका कहना है कि उन्होंने पिछले साल कैंपस से कुछ सीसीटीवी कैमरा को हटा भी दिया था.

महिलाओं की सुरक्षा

वहीं डीयू में सीसीटीवी कैमरा और पुलिस बूथ के समर्थन के सवाल पर एआईएसए की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुचेता डे ने कहा, 'हम फिजूल में सीसीटीवी कैमरों के उपयोग के खिलाफ हैं लेकिन यहां हम महिलाओं की सुरक्षा के लिए इसका समर्थन कर रहे हैं.'

वहीं पुलिस बूथ को लेकर उन्होंने कहा, 'हम हमेशा से ही कॉलेज के अंदर पुलिस की मौजूदगी के खिलाफ रहे हैं. ऐसे में हम चाहते हैं कि कॉलेज की सीमा के बाहर पुलिस बूथ की मौजूदगी रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi