S M L

एयरसेल-मैक्सिस मामले में कार्ति की गिरफ्तारी पर 16 अप्रैल तक रोक

जस्टिस ओ. पी. सैनी ने जांच एजेंसियों को कार्ति की ओर से दायर अग्रिम जमानत याचिका पर तीन हफ्ते के अंदर जवाब देने को कहा

Bhasha Updated On: Mar 24, 2018 05:54 PM IST

0
एयरसेल-मैक्सिस मामले में कार्ति की गिरफ्तारी पर 16 अप्रैल तक रोक

दिल्ली की एक अदालत ने एयरसेल- मैक्सिस मामले में कार्ति चिदंबरम की गिरफ्तारी पर16 अप्रैल तक रोक लगा दी है. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय ( ईडी) ने यह मामला 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले में दायर किया है.

जस्टिस ओ. पी. सैनी ने जांच एजेंसियों को कार्ति की ओर से दायर अग्रिम जमानत याचिका पर तीन हफ्ते के अंदर जवाब देने को कहा.

खचाखच भरी अदालत में सुनाए गए फैसले में जस्टिस सैनी ने यह भी कहा कि कार्ति बिना उसकी इजाजत के देश छोड़कर नहीं जा सकता. कार्ति को हाई कोर्ट ने आईएनएक्स- मीडिया मामले में शुक्रवार को जमानत दे दी है.

इस मामले में जिरह करते हुए कार्ति के वकील कपिल सिब्बल ने कहा, एयरसेल- मैक्सिस मामले में कार्ति के ऊपर न तो कोई आरोप है और न ही इस बात के सबूत हैं कि वह विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) के अधिकारियों को जानते थे.

ईडी मामले में कार्ति की तरफ से पेश वकील गोपाल सुब्रमण्यम ने कहा कि कार्ति ने अन्य मामलों में भी सहयोग किया है और इस बात का सवाल ही नहीं उठता कि वह देश छोड़कर भाग जाएगा या सबूतों के साथ छेड़छाड़ करेगा.

इस दौरान वकीलों का काला चोला पहने कार्ति के पिता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और उनकी पत्नी नलिनी चिदंबरम भी अदालत में मौजूद थे.0

दिल्ली हाई कोर्ट से आईएनएक्स मीडिया मामले में जमानत मिलने के कुछ ही देर बाद कार्ति ने एयरसेल- मैक्सिस मामले में गिरफ्तारी से रोक की याचिका दायर की. इस मामले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय ने 2011 और 2012 में मामले दायर किए थे. यह मामला मैसर्स ग्लोबल कम्युनिकेशंस होल्डिंग्स सविर्सिज लिमिटेड को एयरसेल में निवेश के लिए एफआईपीबी की मंजूरी देने से जुड़ा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi