S M L

ED ने चिदंबरम के रिश्तेदार सहित चेन्नई, कोलकाता में मारे छापे

कैलासम पूर्व वित्त मंत्री के बेटे कार्ती चिदंबरम के मामा हैं, उन्हीं के ठिकानों पर छापेमारी की गई है

Updated On: Dec 01, 2017 03:14 PM IST

Bhasha

0
ED ने चिदंबरम के रिश्तेदार सहित चेन्नई, कोलकाता में मारे छापे

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के रिश्तेदार के ठिकाने पर छापेमारी की. इसके साथ ही चेन्नई और कोलकाता में भी छापेमारी की. मामला एयरसेल-मैक्सिस मामले में मनी लॉंड्रिंग की जांच से संबंधित है.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एजेंसी के अधिकारी सुबह से चेन्नई में चार स्थानों और कोलकाता में दो स्थानों पर तलाशी ले रहे हैं. सूत्रों ने बताया कि चेन्नई के तेनायमपेट में एस. कैलासम के परिसरों पर भी छापे मारे गए. कैलासम पूर्व वित्त मंत्री के बेटे कार्ती चिदंबरम के मामा हैं.

इसके अलावा चेन्नई में एस. सांबामूर्ति और रामजी नटराजन के परिसरों पर भी छापे मारे गए. उन्होंने बताया कि ली रोड और लवलाक प्लेस में मनोज मोहनका के ठिकानों पर भी छापे मारे गए.

मामला 2006 में विदेश निवेश से जुड़ा है 

ये मामला वर्ष 2006 में फॉरेन इंवेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी से जुड़ा है जो पी. चिदंबरम की ओर से दी गई थी. एजेंसी ने कहा था कि वो तत्कालीन वित्त मंत्री की ओर से दी गई एफआईपीबी मंजूरी की परिस्थितियों की जांच कर रही है.

उसने आरोप लगाया कि कार्ती ने पीएमएलए के तहत जब्ती की कार्रवाई से बचने के लिए कुछ बैंक खातों को भी बंद कर दिया. साथ ही चार अन्य बैंक खातों को बंद करने की कोशिश की.

एजेंसी ने कहा कि तत्कालीन वित्त मंत्री ने एयरसेल-मैक्सिस एफडीआई मामले में मार्च 2006 में एफआईपीबी की मंजूरी दी जबकि वह 600 करोड़ रुपए तक की परियोजनाओं को ही मंजूरी दे सकते थे और उससे ज्यादा की परियोजना के लिए आर्थिक मामलों पर मंत्रिमंडल की समिति की मंजूरी की जरूरत थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi