S M L

अल्कोहल टेस्ट से बचने वाले पायलटों पर ‘नरम रुख’ अपनाए डीजीसीए: एयर इंडिया

एयरइंडिया ने आग्रह किया है कि ‘ब्रीथ एनलाइजर टेस्ट’ मामले में उसके पायलटों और चालक दल सदस्यों के प्रति नरम रुख अपनाया जाए

FP Staff Updated On: Sep 24, 2017 04:11 PM IST

0
अल्कोहल टेस्ट से बचने वाले पायलटों पर ‘नरम रुख’ अपनाए डीजीसीए: एयर इंडिया

सार्वजनिक विमानन कंपनी एयर इंडिया ने नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) से आग्रह किया है कि ‘ब्रीथ एनलाइजर टेस्ट’ मामले में उसके पायलटों और चालक दल सदस्यों के प्रति नरम रुख अपनाया जाए.

एयर इंडिया के प्रमुख राजीव बंसल ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि उक्त पायलट और चालक दल सदस्यों की मंशा नियमों के उल्लंघन की नहीं रही.

उल्लेखनीय है कि यह टेस्ट नहीं करवाने के लिए एयर इंडिया के 400 से अधिक पायलट और चालक दल सदस्य डीजीसीए के जांच दायरे में है. डीजीसीए ने पाया है कि कंपनी के 132 पायलट और चालक दल के 434 सदस्य उड़ान से पूर्व और उड़ान के बाद के अनिवार्य ब्रीथ एनलाइजर टेस्ट से बचते रहे यानी उन्होंने यह जांच नहीं करवाई.

एयर इंडिया ने मांगी माफी

उक्त चालकों के खिलाफ कार्रवाई का फैसला नागर विमानन मंत्रालय से विचार विमर्श के बाद ही किया जाएगा.

बंसल ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘उड़ान के आखिर में ब्रीथ एनालाइजर टेस्ट का किसी तरह का उल्लंघन नहीं हुआ. हमने माफी मांगी है और डीजीसीएस को आश्वस्त किया है कि इस मामले में नियमों का पूरी तरह से पालन करेंगे.’

एयर इंडिया के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक बंसल ने जोर दिया कि कंपनी की नियमों के उल्लंघन की कभी मंशा नहीं रही और न ही वह कभी ऐसा करेगी. उन्होंने कहा कि कंपनी सभी नियमों का पूर्ण अनुपालन सुनिश्चित करेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi