S M L

एयरहोस्टेस की मौत: अनिशिया के ससुराल पक्ष को कोर्ट से मिली राहत

दिल्ली पुलिस को निर्देश देते हुए हाई कोर्ट ने कहा कि मंयक के परिजनों को दो अगस्त तक गिरफ्तार नहीं किया जाए

Updated On: Jul 24, 2018 05:29 PM IST

FP Staff

0
एयरहोस्टेस की मौत: अनिशिया के ससुराल पक्ष को कोर्ट से मिली राहत

सोमवार को दिल्ली हाई कोर्ट ने पिछले दिनों आत्महत्या करने वाली अनिशिया बत्रा मामले में उनके ससुराल पक्ष को कुछ राहतें दी हैं. जस्टिस मुक्ता गुप्ता ने अनिशिया के पति मयंक के परिजनों द्वारा दाखिल अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए उन्हें अगली सुनवाई तक गिरफ्तार ना करने का निर्देश दिया है.

साथ ही उन्होंने दिल्ली पुलिस को निर्देश देते हुए कहा कि मंयक के परिजनों को दो अगस्त तक गिरफ्तार नहीं किया जाए. फिलहाल मयंक के परिजन सुषमा सिंघवी और आर एस सिंघवी दोनों न्यायिक हिरासत में हैं.

दरअसल पिछले दिनों दिल्ली के हौज खास इलाके में अनिशिया की संदिग्ध मौत हो गई थी. उनकी मौत के बाद अनिशिया के परिजनों ने उनके पति और ससुराल पक्ष को इसका जिम्मेदार बताया था. इसके बाद की कार्रवाई में पुलिस ने मृतिका के पति मयंक सिंघवी को गिरफ्तार कर लिया था.

मृतिका के परिजनों ने मयंक के माता-पिता पर भी अनिशिया को परेशान करने का दवाब बनाने का आरोप लगाया था. हालांकि उन्होंने आरोपों से साफ इनकार करते हुए अग्रिम जमानत की याचिका की.

परिजनों ने लगाया था ससुराल पक्ष पर आरोप

अनिशिया के परिवार वालों ने पहले भी इस बात को पुलिस के सामने रखा है कि सुसराल पक्ष दहेज को लेकर अनिशिया को हमेशा तंग करता रहता था और उसके साथ मारपीट भी होती थी. मृत एयरहोस्टेस अनिशिया के भाई करण बत्रा ने भी शक जाहिर करते हुए कहा था कि उनकी बहन की हत्या की गई है.

करण ने अपने बहनोई मयंक पर आरोप लगाया था कि वह मृतका को प्रताड़ित करता था और उसे घर में बंद करके रखता था. हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है लेकिन पीड़िता के माता पिता का आरोप है कि पुलिस निष्पक्ष जांच नहीं कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi