विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

अर्जन सिंह की विरासत का जश्न मनाने की योजना बना रही है वायुसेना

वाइस चीफ ऑफ एयर स्टाफ ने कहा कि भारतीय वायुसेना ने उनकी विरासत का तब भी जश्न मनाया जब वह जीवित थे

Bhasha Updated On: Oct 01, 2017 04:03 PM IST

0
अर्जन सिंह की विरासत का जश्न मनाने की योजना बना रही है वायुसेना

भारतीय वायुसेना अपने दिवंगत मार्शल अर्जन सिंह की विरासत का जश्न मनाने की योजना बना रही है. ताकि युवा उनकी विशिष्टताओं का अनुकरण करने के लिए प्रेरित हो सकें. यह बात वायु सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कही.

सिंह का पिछले महीने 98 साल की उम्र में निधन हो गया था. वह पांच सितारा रैंक (मार्शल) पाने वाले भारतीय वायुसेना के एकमात्र अधिकारी थे. यह रैंक थलसेना की फील्ड मार्शल रैंक के बराबर होता है.

वाइस चीफ ऑफ एयर स्टाफ एअर मार्शल एसबी देव ने कहा, ‘वह (अर्जन सिंह) एक आदर्श थे, जिन्हें न सिर्फ उनकी महान पेशेवर उपलब्धियों के चलते, बल्कि उनके मानवीय गुणों की वजह से भी व्यापक रूप से सराहा गया.

अर्जन सिंह के विरासत का जश्न तब भी मना था जब वह जीवित थे 

देव ने कहा, ‘हां, हम उनकी विरासत का जश्न मनाने की योजना बना रहे हैं. वह नायक थे और अब भी हैं.’ हालांकि उन्होंने योजना का ब्योरा नहीं दिया. बीते शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के पानागढ़ वायुसेना सभागार में आयोजित 14वें सुब्रतो मुखर्जी सेमिनार में 1965 के भारत-युद्ध के नायक के सम्मान में कुछ पल का मौन रखा गया.

उन्होंने कहा, ‘उनका साहस तथा प्रतिबद्धता ऐसी विशेषताएं हैं जो अनुकरण योग्य हैं.’ भारतीय वायुसेना ने उनकी विरासत का तब भी जश्न मनाया जब वह जीवित थे. पश्चिम बंगाल के पानागढ़ स्थित वायुसेना स्टेशन का नाम बदलकर 2016 में उनके नाम पर रखा गया था.

भारतीय वायुसेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वायुसेना दिवस (आठ अक्टूबर) पर सिंह को उपयुक्त ढंग से श्रद्धांजलि देने की योजना है. उन्होंने कहा, ‘हम समारोह के बैनर पर विमान की तस्वीरों के साथ उनकी एक बड़ी तस्वीर रखने की योजना बना रहे हैं.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi