S M L

एयरफोर्स का काम टारगेट हिट करना है लाशें गिनना नहीं: IAF चीफ

एयर स्ट्राइक से बालाकोट में कोई नुकसान हुआ है या नहीं? इस सवाल पर एयर चीफ़ मार्शल ने कहा,पाकिस्तान ने इसपर रिएक्ट क्यों किया?' पलटवार करना भारत का अधिकार है

Updated On: Mar 04, 2019 04:29 PM IST

FP Staff

0
एयरफोर्स का काम टारगेट हिट करना है लाशें गिनना नहीं: IAF चीफ

पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में जैश के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक के बाद एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ का बड़ा बयान सामने आया है. एयर स्ट्राइक में कितने आतंकी मारे गए? इस सवाल पर एयर चीफ मार्शल ने कहा कि हमारा काम लक्ष्य भेदना था. लाशें गिनना नहीं. मीडिया को ब्रिफिंग देते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय सेना हर नापाक हरकत का जवाब देने की ताकत रखती है.

'हमने पाकिस्तान के बालाकोट में अपने टारगेट को भेदा, जो हमारा काम था. एयरफ़ोर्स का काम यह बताना नहीं है कि ज़मीन पर कितने लोग थे. एयर स्ट्राइक में कितने लोग मारे गए, इसकी कोई जानकारी नहीं है. उस एयर स्ट्राइक में कितने लोग मारे गए, यह इस बात पर निर्भर करता है कि उस वक्त वहां कितने लोग थे. '

वायुसेना प्रमुख की ओर से आए इस बयान के बाद एक बार फिर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के उस दावे पर सवाल उठने लगे हैं, जिसमें उन्होंने कहा है कि ऑपरेशन बालाकोट में कम से कम 250 आतंकी मारे गए हैं.

एयर स्ट्राइक से बालाकोट में कोई नुकसान हुआ है या नहीं? इस सवाल पर एयर चीफ़ मार्शल ने कहा, 'अगर जंगल में ही गोलाबारी हुई होती, तो विदेश सचिव को इसके लिए ब्रीफ़ करने की ज़रूरत नहीं होती. वहीं, पाकिस्तान ने भी इसपर रिएक्ट क्यों किया?' पलटवार करना भारत का अधिकार है.

उन्होंने आतंकियों को चेतावनी देते हुए कहा कि एयरफोर्स पलटवार करने से पहले कभी सोचेगी नहीं. एयरफोर्स चीफ ने कहा कि जरूरत पड़ी तो भारतीय वायुसेना पाकिस्तान के और अंदर घुसकर टारगेट को खत्म करेगी.

मिग-21 का इस्तेमाल क्यों?

भारत ने पाकिस्तान के F-16 का जवाब देने के लिए मिग-21 का इस्तेमाल क्यों किया, इस सवाल का जवाब भी एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने दिया है. एयर चीफ मार्शल ने कहा है कि मिग-21 बाइसन ऐसे हमले करने में सक्षम है. उन्होंने बताया कि मिग-21 एक अच्छा और आक्रामक विमान है.

धनोआ ने जानकारी दी कि इस एयरक्राफ्ट को अपग्रेड किया गया है. एयरक्राफ्ट में अच्छे रडार लगाए गये हैं. इसके अलावा ये फाइटर एयरक्राफ्ट एयर टू एयर मिसाइल छोड़ने में भी सक्षम है. उन्होंने कहा कि मिग-21 के पास अब बेहतर मारक क्षमता है.

'फिट होते ही होगी अभिनंदन की वापसी'

एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने अभिनंदन पर भी बड़ी बात कही. उन्होंने कहा कि अभिनंदन की मेडिकल फिटनेस के आधार पर ही तय होगा कि वो लड़ाकू विमान उड़ा पाएंगे या नहीं. पूरे इलाज के बाद जब उनकी मेडिकल फिटनेस रिपोर्ट आएगी और अगर वो फिट हुए तो वो दोबारा कॉकपिट में बैठेंगे.

विंग कमांडर का दिल्ली के अस्पताल में इलाज चल रहा है. उनकी पीठ में चोट है. रविवार को उन्होंने जल्द से जल्द फाइटर जेट उड़ाने की इच्छा जाहिर की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi