S M L

वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने का विरोध करने पर AIMIM पार्षद को जेल

एआईएमआईएम का आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने राशिद को बुरी तरह पीटा लेकिन पुलिस ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की

Updated On: Aug 23, 2018 11:26 AM IST

FP Staff

0
वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने का विरोध करने पर AIMIM पार्षद को जेल

औरंगाबाद में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मस्लिमीन (एआईएमआईएम) के पार्षद सैयद मतीन राशिद को 'महाराष्ट्र खतरनाक गतिविधियों की रोकथाम कानून' (एमपीडीए) के तहत एक साल की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले हफ्ते राशिद ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के श्रद्धांजलि प्रस्ताव का विरोध किया था. विरोध करने के कारण बीजेपी पार्षदों ने उन्हें कथित तौर पर पीटा और दो समुदायों में वैमनस्य बढ़ाने के आरोप में उनके खिलाफ एक शिकायत भी दर्ज कराई.

राशिद को हालांकि मंगलवार को जमानत दे दी गई लेकिन इसके कुछ देर बाद ही सिटी चौक कोतवाली की एक टीम औरंगाबाद के हरसुल जेल पहुंची, जहां राशिद को बंद रखा गया था और एमपीडीए के तहत जारी नगर आयुक्त का आदेश जेल प्राधिकारियों को सौंपा.

आदेश की प्रति मिलते ही राशिद को अगले एक साल के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. इसकी पुष्टि करते हुए औरंगाबाद के आयुक्त चिरंजीव प्रसाद ने कहा, दंगा भड़काने, हिंसा के लिए उकसाने, सांप्रदायिक सदभाव बिगाड़ने और आगजनी जैसे आरोपों.... इसलिए उन्हें (पार्षद राशिद) एमपीडीए के तहत बुक करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा. अन्य कई निरोधक कार्रवाई उन्हें रोक नहीं पाई.

राशिद पूर्व में नगर निकाय में राष्ट्रीय गान का विरोध कर चुके हैं.

राशिद को न्यायिक हिरासत में भेजने का विरोध करते हुए एआईएमआईएम के विधायक सैयद इम्तियाज जलील ने कहा, उनके (राशिद) खिलाफ केवल दो केस हैं जो राजनीतिक हैं. हमारी पार्टी ने वाजपेयी के निधन पर शोक जताया था और इसे लेकर हमने एक प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की थी. राशिद ने हमें कभी नहीं बताया कि वे श्रद्धांजलि प्रस्ताव का विरोध करने वाले हैं. हालांकि यह पार्टी का अंदरूनी मामला है. राशिद को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बुरी तरह पीटा, हमारे पास इसका सीसीटीवी फुटेज भी है.

जलील ने कहा, इतने गंभीर अपराध के बावजूद पुलिस ने ढिलाई बरती और बीजेपी कार्यकर्ताओं को जमानत दे दी. इस जमानत के खिलाफ हम हाई कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं और इस मामले में पुलिस को पक्षकार बनाएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi