S M L

राज्यसभा में उठी मेट्रो की तर्ज पर रेलगाड़ियों में ऑटोमेटिक गेट लगाने की मांग

एआईएडीएमके सदस्य विजिला सत्यनाथन ने रेलयात्रियों की सुरक्षा का मुद्दा उठाते हुए सरकार से मेट्रो रेल की तर्ज पर रेलगाड़ियों में भी ऑटोमेटिक दरवाजे लगाने की मांग की

Bhasha Updated On: Aug 02, 2018 05:21 PM IST

0
राज्यसभा में उठी मेट्रो की तर्ज पर रेलगाड़ियों में ऑटोमेटिक गेट लगाने की मांग

राज्यसभा में गुरुवार को एआईएडीएमके सदस्य विजिला सत्यनाथन ने रेलयात्रियों की सुरक्षा का मुद्दा उठाते हुए सरकार से मेट्रो रेल की तर्ज पर रेलगाड़ियों में भी ऑटोमेटिक दरवाजे लगाने की मांग की.

राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान सत्यनाथन ने लोकल ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ के कारण डिब्बों के दरवाजों पर यात्रा करने की यात्रियों की मजबूरी का मुद्दा उठाते हुए सरकार से रेलगाड़ियों में ऑटोमेटिक दरवाजे लगाने की मांग की.

उन्होंने हाल ही में तमिलनाडु में भीड़ से ठसाठस भरी कई रेलगाड़ियों में दरवाजों पर यात्रा कर रहे पांच यात्रियों की मौत की घटना का हवाला देते हुए सरकार से रेल पटरी पर सुरक्षा दीवार (सेफ्टी वॉल) लगाने की मांग की. जेडीयू की कहकशां परवीन ने भी रेलगाड़ियों में गंदगी और खराब भोजन परोस जाने का मुद्दा उठाया. उन्होंने हाल ही में रांची राजधानी में खराब खाना खाने से कुछ यात्रियों के बीमार होने की घटना का हवाला देते हुए गंदा खाना परोसने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की.

परवीन ने डिब्रूगढ़ राजधानी में पेंट्रीकार नहीं होने के कारण यात्रियों को ‘बाहर से मंगाया गया खराब खाना खाने के लिए मजबूर होने का’ मुद्दा उठाया. उन्होंने रेल मंत्रालय से डिब्रूगढ़ राजधानी में पेंट्रीकार लगाने की मांग की.

इस दौरान बीजेपी सदस्य सकलदीप राजभर ने पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के गृह जिला बलिया (उत्तर प्रदेश) में कोई अस्पताल नहीं होने का हवाला देते हुए एम्स की तर्ज पर अस्पताल बनाने की मांग की. इस मांग का समाजवादी पार्टी सदस्य नीरज शेखर सहित अन्य कई सदस्यों ने समर्थन किया.

बीजेपी के सत्यनारायण जटिया ने सबको आवास योजना के तहत मध्य और निम्न आय वर्ग के लोगों के लिए निर्माणाधीन आवास योजनाओं में देरी का मुद्दा उठाया. जटिया ने आपसी तालमेल बढ़ाकर इन योजनाओं की गति में तेजी लाने की मांग की जिससे ये योजनाएं तय समय से पूरी हो सकें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi