S M L

रेल मंत्रालय और श्रम मंत्रालय में टकराव, जितेंद्र सिंह के OSD को वापस मांगा गया

रेलवे की ओर से भेजे गए खत में लिखा है कि संजीव कुमार ने जो आर्टिकल लिखा है उससे गलत संदेश जाता है

Updated On: Dec 31, 2018 09:30 PM IST

FP Staff

0
रेल मंत्रालय और श्रम मंत्रालय में टकराव, जितेंद्र सिंह के OSD को वापस मांगा गया

भारतीय रेलवे के एक अधिकारी को लेकर रेल मंत्रालय और श्रम मंत्रालय आमने-सामने आ गए हैं. रेल मंत्रालय ने श्रम मंत्रालय को पत्र लिखकर आईआरपीएस अफसर संजीव कुमार को रेल सेवा में वापस करने की मांग की है. संजीव कुमार प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री और श्रम मंत्रालय देख रहे जितेंद्र सिंह के ओएसडी है.

श्रम मंत्रालय के सचिव को 28 दिसंबर को लिखे अपने पत्र में रेलवे बोर्ड के सचिव ने कहा है कि संजीव कुमार ने www.railsamachar.com और www.nationalwheels.com में एक लेख लिख कर रेलमंत्री और रेल मंत्रालय के वरिष्‍ठ अधिकारियों का अपमान किया है. इसलिए संजीव कुमार पर तत्काल कार्रवाई किया जाना आवश्यक है. इसलिए रेल मंत्रालय ने संजीव कुमार को तुरंत वापस करने की मांग की है ताकि उन पर कार्रवाई की जा सके.

रेलवे की ओर से भेजे गए खत में लिखा है कि संजीव कुमार ने जो आर्टिकल लिखा है उससे गलत संदेश जाता है और यह भारत सरकार के सचिव स्‍तर के अधिकारियों की बुद्धिमत्‍ता पर सवाल खड़े करता है. चिट्ठी में कहा गया है कि अगर कार्रवाई नहीं की गई तो इससे गलत संदेश जाएगा और सेवा में कार्यरत लोगों में अनुशासनहीनता को बढ़ावा मिलेगा.

बता दें कि संजीव कुमार को इसी साल अक्‍टूबर में जितेंद्र सिंह का ओएसडी बनाया गया था. वे 2005 बैच के आईआरपीएस अधिकारी हैं.

(न्यूज18 के लिए अनिल राय की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें: चंद्रशेखर ने 1991 में राजीव से कहा था कि शादी बेमेल है तो बेहतर है तलाक

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान डायरी: अमेरिकी फौज के जाने के बाद अफगानिस्तान में भारत को मात दे पाएगा पाकिस्तान?

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi