S M L

सबरीमाला पर आए SC के फैसले के बाद महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था की तैयारी

महिलाओं के लिए अलग स्नानगृह के साथ ही साथ रात में अच्छी लाइट, बस में महिलाओं की स्पेशल सीट जैसी कई व्यवस्थाओं की तैयारी की जा रही है

Updated On: Oct 01, 2018 04:29 PM IST

FP Staff

0
सबरीमाला पर आए SC के फैसले के बाद महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था की तैयारी

केरल के सबरीमाला स्थित अय्यप्पा मंदिर को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब मंदिर परिसर में कई बदलाव किए जा रहे हैं. जहां रविवार को ए पद्मकुमार ने ऐलान किया कि मंदिर परिसर में जल्द ही महिलाओं के लिए शौचालय बनाए जाएंगे. वहीं सोमवार को पाम्बा में महिलाओं के लिए अलग स्नानगृह के साथ ही साथ रात में अच्छी लाइट, बस में महिलाओं की स्पेशल सीट जैसी कई व्यवस्थाओं की तैयारी की जा रही है.

सोमवार को मुख्यमंत्री पिनाराई विजायन, मंत्री कडकमपल्ली सुरेंद्रन, टीडीबी के सदस्य और वरिष्ठ पुलिस ऑफिसर के बीच हुई मीटिंग में सुप्रीम कोर्ट के ऑडर को लागू करने पर कई देर तक बातें हुई.

सुरेंद्रन ने बताया कि सरकार मलयालम महीने के पहले पांच दिन मंदिर में प्रवेश करने वाली महिलाओं के लिए व्यवस्थाएं करने को तैयार है. इस महीने के दौरान कई लाख श्रद्धालु मंदिर दर्शन करने पहुंचते हैं. ऐसे में सुरक्षा के लिए महिला पुलिसकर्मियों को भी मंदिर परिसर में तैनात किया जाएगा.

हज के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी तीर्थ यात्रा सबरीमाला

हज के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी तीर्थ यात्रा सबरीमाला है, जहां श्रद्धालुओं की भीड़ इकट्ठा होती है.

बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले के माध्यम से केरल के सबरीमाला स्थित अय्यप्पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश का रास्ता साफ कर दिया. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय पीठ ने 4:1 के बहुमत के फैसले में कहा था कि मंदिर में महिलाओं को प्रवेश से रोकना लैंगिक आधार पर भेदभाव है और यह परिपाटी हिंदू महिलाओं के अधिकारों का उल्लंघन करती है. चीफ जस्टिस ने कहा कि धर्म मूलत: जीवन शैली है जो जिंदगी को ईश्वर से मिलाती है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi