S M L

सबरीमाला की तर्ज पर सुन्नी मस्जिदों में प्रवेश की अनुमति के लिए सुप्रीम कोर्ट जाएंगी मुस्लिम महिलाएं

जुहरा ने कहा, 'मैं समानता के लिए ऐसा कर रही हूं. सुन्नी मस्जिदों के अंदर महिलाओं को जाने की अनुमति नहीं दी जाती है'

Updated On: Oct 10, 2018 11:16 PM IST

FP Staff

0
सबरीमाला की तर्ज पर सुन्नी मस्जिदों में प्रवेश की अनुमति के लिए सुप्रीम कोर्ट जाएंगी मुस्लिम महिलाएं

सुप्रीम कोर्ट द्वारा सबरीमाला मंदिर में मासिक धर्म के दौरान महिलाओं के प्रवेश पर प्रतिबंध हटा लेने के कुछ दिनों बाद ही अब केरल की मुस्लिम महिलाएं भी अदालत जाने वाली हैं. दरअसल केरल स्थित मुस्लिम महिला संगठन अब सुन्नी मस्जिदों में प्रवेश पाने के लिए शीर्ष अदालत जाने के लिए तैयार है.

कोझिकोड स्थित प्रगतिशील मुस्लिम महिलाओं के समूह एनआईएसए की अध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता वीपी जुहरा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने का फैसला किया है. इसके तहत वह देश भर की सुन्नी मस्जिदों में महिलाओं के प्रवेश की अनुमति मांगेंगी.

जुहरा के मुताबिक वह मस्जिदों में महिलाओं से होने वाले भेदभाव के चलते सुप्रीम कोर्ट जा रही हैं. जुहरा ने कहा, 'मैं समानता के लिए ऐसा कर रही हूं. सुन्नी मस्जिदों के अंदर महिलाओं को जाने की अनुमति नहीं दी जाती है, हमें भी अंदर जाने का अधिकार है. पैगंबर के समय भी महिलाओं को मस्जिदों में प्रवेश करने की इजाजत थी.'

बुधवार को एनआईएसए प्रमुख ने कहा कि वकील वेंकिता सुब्रमण्यम इस सप्ताह या अगले सप्ताह खुद सुप्रीम कोर्ट में महिलाओं की याचिका दायर करेंगे. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 28 सितंबर को सभी आयु समूहों की महिलाओं के लिए सबरीमाला मंदिर के दरवाजे खोले दिए थे. अदालत ने इसे भेदभाव का एक रूप बताया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi