विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

क्या 1980 के बाद पैदा हुए लोग रिटायरमेंट के बाद खुशहाल नहीं रहेंगे?

मिलेनियल यानी 1980 के बाद जन्म लेने वाले लोग रिटायरमेंट के मामले में पिछली पीढ़ी के मुकाबले थोड़े कम भाग्यशाली हैं

Bhasha Updated On: May 14, 2017 07:58 PM IST

0
क्या 1980 के बाद पैदा हुए लोग रिटायरमेंट के बाद खुशहाल नहीं रहेंगे?

ऐसा जान पड़ता है कि मिलेनियल यानी 1980 के बाद जन्म लेने वाले लोग रिटायरमेंट के मामले में पिछली पीढ़ी के मुकाबले थोड़े कम भाग्यशाली हैं. अमूमन 1980 से 1996 के बीच पैदा हुए लोगों को मिलेनियल कहा जाता है.

ताजा रिपोर्ट के अनुसार केवल 21 फीसदी लोगों का मानना है कि मिलेनियल लोगों रिटायरमेंट के समय बेहतर स्थिति में होंगे.

एचएसबीसी की ‘द फ्यूचर आफ रिटायरमेंट’ सीरिज की ताजा रिपोर्ट में कहा गया, ‘केवल 21 प्रतिशत लोगों का मानना है कि मिलेनियल रिटायरमेंट के लिहाज से संतोषजनक स्थिति में हैं जबकि 1946 से 1964 के बीच जन्म लेने वाले यानी 'बेबी बूमर्स' के मामले में यह 34 प्रतिशत है.’

बेबी बूमर्स रहेंगे बेहतर स्थिति में 

सर्वे में 16 देशों से 18,414 लोगों के विचार लिये गए हैं. इन देशों में भारत, अर्जेन्टीना, आस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, मिस्र, फ्रांस, हांगकांग, इंडोनेशिया, मलेशिया, मैक्सिको, सिंगापुर, ताइवान, संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन तथा अमेरिका शामिल हैं.

इसमें कहा गया है कि 40 प्रतिशत ‘बेबी बूमर्स’ का मानना है कि उनकी पीढ़ी संतोषजनक तरीके से रिटायर होने के मामले में बेहतर स्थिति में है.

जिंदगी की औसत आयु और ऑफ्टर रिटायरमेंट एम्पलायमेंट के मामले में 57 प्रतिशत ‘मिलेनियल’ का मानना है कि उनकी आयु लंबी होगी और उन्हें लंबे समय तक मदद की जरूरत होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi