S M L

मेट्रो में 2278 पुरुषों को महिला कोच में यात्रा करते हुए पकड़ा गया: DMRC डाटा

एक तरफ दिल्ली मेट्रो से लोग जितनी सुविधा हासिल करते हैं, वहीं दूसरी ओर यात्री नियम तोड़ते हुए भी देखे गए हैं.

Updated On: Oct 07, 2018 04:53 PM IST

FP Staff

0
मेट्रो में 2278 पुरुषों को महिला कोच में यात्रा करते हुए पकड़ा गया: DMRC डाटा

देश की राजधानी दिल्ली में मेट्रो यातायात का एक अहम माध्यम बन चुका है. ऐसा माना जाता है अगर दिल्ली में मेट्रो सेवा अगर कुछ घंटे के लिए ही बंद हो जाए तो पूरे दिल्ली में लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. एक तरफ दिल्ली मेट्रो से लोग जितनी सुविधा हासिल करते हैं, वहीं दूसरी ओर यात्री नियम तोड़ते हुए भी देखे गए हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के जरिए जारी किए गए आंकड़ो के मुताबिक दिल्ली मेट्रो में लोगों के जरिए नियम तोड़ने पर जुर्माना भी लगाया गया. डीएमआरसी के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली मेट्रो में सबसे ज्यादा तोड़ा गया नियम फर्श पर बैठना है. दिल्ली मेट्रो में फर्श पर बैठने की मनाही है लेकिन यात्रियों ने इस नियम की सबसे ज्यादा अनदेखी की है. इस साल अगस्त महीने तक जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक 22699 लोगों को इस नियम को तोड़ने पर दंडित किया गया है.

वहीं 2871 लोग टोकन बिना जमा किए ही बाहर जाते हुए पकड़े गए. इसके अलावा परेशान करते हुए पकड़े जाने पर 3933 लोगों पर जुर्माना लगाया गया है. अन्य आम अपराधों में अवैध रूप से महिलाओं के लिए आरक्षित कोच और स्टेशनों, ट्रेनों के अंदर थूकना शामिल है. इस साल जनवरी और अगस्त के बीच 2278 पुरुष यात्रियों को महिला कोच में यात्रा करते हुए पकड़ा गया और 604 लोग स्टेशन और मेट्रो में थूकते हुए पकड़े गए.

जुर्माने से वसूले लाखों रुपए

वहीं अगर पुराने आंकड़ों पर गौर किया जाए तो साल 2014 में 4, 2015 में 108, 2016 में 1521 और साल 2017 में 10155 लोगों को मेट्रो ट्रेन के फ्लोर पर बैठने के कारण पकड़ा गया था. इस साल जनवरी से अगस्त के बीच डीएमआरसी ने जुर्माने से 24.13 लाख रुपए वसूल किए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi