S M L

आधार डेटाबेस के हैक होने की खबर को UIDAI ने बताया निराधार

तीन महीने की पड़ताल के बाद एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि आधार के डेटाबेस में एक सॉफ्टवेयर पैच करके बहुत ही आसानी से सेंध लगाई जा सकती है

Updated On: Sep 11, 2018 09:12 PM IST

FP Staff

0
आधार डेटाबेस के हैक होने की खबर को UIDAI ने बताया निराधार
Loading...

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार डेटाबेस (Aadhaar) के आसानी से हैक हो जाने की खबर को पूरी तरह से बकवास और गैरजिम्मेदाराना बताया है.

आधार ने सोशल मीडिया पर चल रही आधार नामांकन सॉफ्टवेयर के हैक होने की खबरों को निराधार और गैर जिम्मेदार बताया है. यूआईडीएआई ने कहा कि ये दावे खोखले और आधारहीन हैं.

तीन महीने की पड़ताल के बाद एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि आधार के डेटाबेस में एक सॉफ्टवेयर पैच करके बहुत ही आसानी से सेंध लगाई जा सकती है. 'हफपोस्ट इंडिया' का दावा था कि कोई भी व्यक्ति मात्र 2,500 रुपये में मिलने वाले इस पैच के जरिए दुनिया में कहीं से भी आधार आईडी बना सकता है.

कांग्रेस ने भी चिंता जताई:

विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने भी इस मुद्दे पर एक ट्वीट कर कहा था, 'आधार नामांकन सॉफ्टवेयर के हैक हो जाने से आधार डेटाबेस की सुरक्षा खतरे में आ सकती है. हमें उम्मीद है कि अधिकारी आगे होने वाले नामांकनों को सुरक्षित करने और संदिग्ध नामांकन का पता लगाने के लिए उचित कदम उठाएंगे.'

पिछले महीने फ्रांसीसी सुरक्षा विशेषज्ञ इलियट एल्डर्सन ने यूआईडीएआई से सवाल किया था कि क्यों इसकी हेल्पलाइन संख्या कई लोगों के फोन पर उनकी जानकारी के बिना दर्ज हो गई, जिससे काफी विवाद हुआ था. अब उन्होंने एक बार फिर कहा है कि यूआईडीएआई डेटा में सेंध को रोकने के लिए हैकर्स के साथ काम करें.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi