S M L

मध्य प्रदेश में फिर एक किसान की मौत, प्याज की गिरती कीमतें बनी वजह

एक किसान जिसने अपनी प्याज की फसल बेचने के लिए मंदसौर मंडी का रुख किया था, ढहती कीमतों के बारे में सुनकर मर गया.

Updated On: Dec 31, 2018 02:55 PM IST

FP Staff

0
मध्य प्रदेश में फिर एक किसान की मौत, प्याज की गिरती कीमतें बनी वजह

मध्य प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ के जरिए राज्य के किसानों के लिए कर्ज माफी की घोषणा हाल ही में की गई थी. हालांकि इस ऐलान के कुछ दिनों बाद एक किसान जिसने अपनी प्याज की फसल बेचने के लिए मंदसौर मंडी का रुख किया लेकिन प्याज की ढहती कीमतों के बारे में सुनकर मर गया.

भेरूलाल मालवीय मंदसौर मंडी में 27 क्विंटल प्याज बेचने के लिए आए थे, लेकिन कीमतों में भारी गिरावट के कारण किसान को 372 रुपए प्रति क्विंटल की दर से सिर्फ 10440 रुपए मिले. इस राशि को सुनने के बाद उसे दिल का दौरा पड़ा गया. इसके बाद 40 वर्षीय व्यक्ति को अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

इस मामले को लेकर भेरूलाल मालवीय के बेटे रवि ने बताया कि उनके पिता के सीने में गंभीर दर्द हुआ और वह बाजार में ही गिर गए. वहीं उनके परिवार के अन्य सदस्यों ने कहा कि बाजार में प्याज की गिरती कीमतों के बारे में सुनकर सदमे से उनकी मौत हो गई थी. वहीं मृतक के परिवार ने राज्य सरकार से मदद की मांग की है.

जानकारी के मुताबिर बंपर उत्पादन के साथ एमपी में प्याज और लहसुन के सबसे बड़े उत्पादक मालवा के बाजारों में प्याज 50 रुपए प्रति क्विंटल से 800 रुपए प्रति क्विंटल बिक रहा है. राज्य के थोक बाजारों में लहसुन का विक्रय मूल्य 100 रुपए से 200 रुपए प्रति क्विंटल है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi