S M L

चुनावी साल में किसानों को बड़ा तोहफा, एमएसपी से सरकार के पक्ष में माहौल बन पाएगा?

रागी के एमएसपी में जबरदस्त इजाफा किया गया है. रागी का एमएसपी 1900 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 2897 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है

Updated On: Jul 04, 2018 07:06 PM IST

FP Staff

0
चुनावी साल में किसानों को बड़ा तोहफा, एमएसपी से सरकार के पक्ष में माहौल बन पाएगा?

केंद्र सरकार ने खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी एमएसपी में भारी बढ़ोत्तरी कर चुनाव से पहले किसानों को खुश करने की बड़ी कोशिश की है. इसे चुनावी साल में मोदी सरकार का मास्टर स्ट्रोक कहा जा रहा है. कपास समेत कई फसलों के एमएसपी में डेढ़ गुना की बढ़ोत्तरी की गई है जबकि धान का समर्थन मूल्य अब 200 रुपए बढ़कर 1550 रुपए प्रति क्विंटल से 1750 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है.

मिडिल लेवल के कपास का समर्थन मूल्य 4,020 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 5,150 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है. जबकि अच्छी क्वालिटी के कपास का समर्थन मूल्य 4320 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 5,450 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है.

इसके साथ ही दालों के एमएसपी में भी बढ़ोतरी की गई है. उड़द के एमएसपी में 200 रुपए प्रति क्विंटल का इजाफा हुआ है. उड़द का पहले समर्थन मूल्य 5400 था जो कि अब बढ़कर 5600 हो गया है.

Jammu: Workers plany paddy saplings in a field at Suchetgarh of Ranbir Singh Pura sector near the India-Pakistan international border, about 25 km from Jammu on Wednesday, July 04, 2018. The government today hiked the minimum support price for paddy by a steep Rs 200 per quintal as it looked to fulfil its poll promise to give farmers 50 per cent more rate than their cost of production. (PTI Photo) (PTI7_4_2018_000124B)

वहीं मूंग का एमएसपी 5575 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 6975 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है. अरहर के समर्थन मूल्य में 225 रुपए प्रति क्विंटल की दर से इजाफा हुआ है. पहले इसका समर्थन मूल्य 5450 रुपए प्रति क्विंटल था जो कि अब बढ़ाकर 5675 प्रति क्विंटल किया गया है.

रागी के एमएसपी में जबरदस्त इजाफा किया गया है. रागी का एमएसपी 1900 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 2897 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है.

सरकार के इस फैसले की जानकारी देते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा ‘सरकार की पूरी कोशिश किसानों को उचित कीमत दिलाने की है. पहले किसानों को सही कीमत नहीं मिलती थी. कपास का समर्थन मूल्य भी बढ़ा दिया गया है. केंद्र सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करेगी.’

गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बयान से साफ है कि केंद्र सरकार एमएसपी में भारी बढ़ोत्तरी के जरिए यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि वो 2022 तक किसानों की आमदनी को दोगुना करने की कोशिश में है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi