S M L

केरल: OLX पर सिर्फ 10,000 में बिक रहा है कांग्रेस का स्टेट ऑफिस

सोमवार को केरल में केपीसीसी की राजनीतिक समिति की मीटिंग होने वाली है जिसमें और ज्यादा हंगामा होने की संभावना जताई जा रही है

Updated On: Jun 10, 2018 06:33 PM IST

FP Staff

0
केरल: OLX पर सिर्फ 10,000 में बिक रहा है कांग्रेस का स्टेट ऑफिस

केरल में कांग्रेस के भीतर राज्यसभा सीट को लेकर घमासान के बीच किसी ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी का ऑफिस (केपीसीसी) को OLX पर बिक्री के लिए विज्ञापन डाल दिया है. दरअसल केरल कांग्रेस के कई नेता राज्यसभा सीट कांग्रेस (एम) को 'उपहार' में दिए जाने को लेकर पार्टी के सीनियर नेताओं से बेहद नाराज हैं. इसी बीच OLX पर यह विज्ञापन देखा गया है.

OLX पर अनीश नाम के व्यक्ति ने यह विज्ञापन दिया है, जिसमें तिरुवनंतपुरम के सस्थमंगलम इलाके में स्थित इंदिरा भवन के लिए 10 हजार रुपए कीमत रखी गई है. विज्ञापन में कांग्रेस ऑफिस की तस्वीर और एरिया के बारे में बताने के साथ कहा गया है कि यह पूरी तरह तैयार है.

विज्ञापन कांग्रेस द्वारा सहयोगी पार्टियों के तुष्टीकरण पर भी तंज मारता हुआ नजर आता है, क्योंकि इसमें ऑफिस को खरीदने के लिए इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) अथवा केरल कांग्रेस (एम) से संपर्क करने के लिए कहा गया है.

KERALA CONGRESS OFFICE

बता दें कि केरल कांग्रेस में पिछले दिनों तब उथल-पुथल शुरू हो गई जब पार्टी ने राज्यसभा की एक सीट केरल कांग्रेस (एम) को देने का फैसला किया, केरल कांग्रेस (एम) दो साल बाद यूडीएफ गठबंधन में वापस लौटी है. वर्तमान में इस सीट से राज्यसभा के उपसभापति पीजे कुरियन सांसद हैं जो कि 1 जुलाई को रिटायर हो जाएंगे.

केरल कांग्रेस (एम) ने इस सीट से पार्टी प्रमुख केएम मणी के बेटे जोस के मणि को मैदान में उतारा है. केरल कांग्रेस (एम) जोस के मणि को राज्यसभा उम्मीदवार बनाए जाने से कांग्रेस के नेता और नाराज हो गए हैं. कांग्रेस नेताओं का मानना है कि जोस के मणि के स्थान पर पार्टी का कोई सीनियर नेता उम्मीदवार होना चाहिए था.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लिखे एक पत्र में छह युवा विधायकों ने अपनी परेशानियों को व्यक्त किया है. पत्र में लिखा गया है, 'मैं केरल नेताओं के केरल कांग्रेस (एम) पार्टी को राज्यसभा सीट देने के फैसले पर अत्यंत निराशा और मजबूत विरोध व्यक्त करता हूं. केरल कांग्रेस (एम) यूडीएफ का एक घटक भी नहीं है. इस फैसले ने केरल के साधारण कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावनाओं को धोखा दिया है. यह उनका अपमान है, इसलिए मैं उन सभी नेताओं से आग्रह करता हूं कि जल्द से जल्द इस विनाशकारी निर्णय पर पुनर्विचार करें और आगामी चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवार खुद को मैदान में रखें.'

पूर्व केपीसीसी अध्यक्ष वीएम सुधीरन ने भी इस फैसले पर कड़ी प्रतिक्रिया दी और कहा, 'राज्यसभा सीट देने का फैसला निराशाजनक है. इस मूर्खतापूर्ण निर्णय पर कांग्रेस कार्यकर्ता हताश और निराश हैं. कांग्रेस के लिए यह निर्णय किसी आपदा की तरह हो सकता है, जिसका फायदा बीजेपी को होगा. यह बिना किसी चर्चा के लिया गया एकपक्षीय निर्णय है.

कांग्रेस नेता मुख्य तौर पर चेनिथला और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चांडी के खिलाफ अंगुली उठा रहे हैं. सोमवार को केरल में केपीसीसी की राजनीतिक समिति की मीटिंग होने वाली है जिसमें और ज्यादा हंगामा होने की संभावना जताई जा रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi