S M L

हेलमेट और सीट बेल्ट न लगाने की वजह से हर दिन जाती है 177 लोगों की जान

देश में हर साल हजारों लोगों की मौत सड़क हादसों में होती है. इनमें बहुत से मामले ऐसे होते हैं, जिनमें गलतियां दूसरों की नहीं बल्कि अपनी होती है

Updated On: Oct 09, 2018 10:00 AM IST

FP Staff

0
हेलमेट और सीट बेल्ट न लगाने की वजह से हर दिन जाती है 177 लोगों की जान

देश में हर साल हजारों लोगों की मौत सड़क हादसों में होती है. इनमें बहुत से मामले ऐसे होते हैं, जिनमें गलतियां दूसरों की नहीं बल्कि अपनी होती है. अक्सर लोग टू-व्हीलर पर चलते वक्त हेलमेट न लगाने या फिर कार में सीट बेल्ट न पहनने जैसी लापरवाही कर बैठते हैं, जिसका परिणाम उन्हें बाद में भुगतना पड़ता है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, साल 2017 में हेलमेट न लगाने के कारण हर दिन कम से कम 98 टू-व्हीलर राइडर्स और सीट बेल्ट न पहनने के कारण 79 कार में सवार लोगों की मौत एक्सीडेंट में हुई है. इसके अलावा ड्राइव करते वक्त फोन पर बात करने हर दिन 9 लोगों की मौत हुई.

ये रोड एक्सीडेंट रिपोर्ट राज्य पुलिस और ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट से मिला डेटा के हिसाब से बनाई गई है. 2016 के मुकाबले 2017 में कम लोगों की मौत हुई,1 लेकिन सेफ्टी गियर और डिवाइसेस का इस्तेमाल ठीक से न करने के कारण होने वाली मौतों का आंकड़ा बढ़ा है. 2017 में एक्सीडेंट के दौरान हेलमेट न होने के कारण 36,000 लोगों की मौत हुई. जो कि 2016 के 10,135 के आंकड़े से कहीं ज्यादा है. इस मामले में तमिलनाडु (5,211) सबसे आगे है. इसके बाद दूसरे नंबर पर यूपी (4,406) और तीसरे पर मध्यप्रदेश (3,183) है.

वहीं जिन राज्यों में कार की सीट बेल्ट न लगाने के कारण हुई मौत के मामले में कर्नाटक (4,035) सबसे आगे है. इसके बाद तमिलनाडु (3,497) और यूपी (2,897) तीसरे पर है. वहीं ड्राइव करते वक्त फोन पर बात करने के कारण हुए एक्सीडेंट के चलते मौत के मामलों में यूपी (1,512) पहले स्थान पर है. इसके बाद महाराष्ट्र (282) और फिर तीसरे नंबर पर ओडिशा (257) है. ऐसे केस में दिल्ली में सिर्फ तीन लोगों की ही मौत हुई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi