S M L

पाकिस्तानी गोलीबारी में 8 महीने की बच्ची और एक महिला की मौत

अंतरराष्ट्रीय सीमा और एलओसी पर रविवार की रात से शुरू की गई भारी गोलाबारी में 8 महीने की मासूम बच्ची की मौत हो गई

Updated On: May 22, 2018 10:48 AM IST

FP Staff

0
पाकिस्तानी गोलीबारी में 8 महीने की बच्ची और एक महिला की मौत

सीमा पर भारत की जवाबी कार्रवाई से डरे पाकिस्तान ने भारत से गोलीबारी रोकने के निवेदन के बाद भी अपनी नापाक हरकत जारी रखते हुए सीमा पर गोलीबारी जारी रखी है.

अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) और एलओसी पर रविवार की रात से शुरू की गई भारी गोलाबारी में एक 8 महीने की मासूम बच्ची की मौत हो गई. और एक एसपीओ समेत छह लोग घायल हो गए हैं. पाकिस्तान की तरफ से जारी गोलाबारी को देखते हुए जम्मू, सांबा व कठुआ जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले 150 स्कूल बंद कर दिए गए हैं.

पाकिस्तान ने आईबी पर रामगढ़, अरनिया सेक्टर और एलओसी पर पलांवाला सेक्टर में भारतीय पोस्ट के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया है.

पाकिस्तान सेना ने रामगढ़ व अरनिया सेक्टर के 24 पोस्टों तथा 52 गांवों में गोलाबारी की. पाक के गोले अरनिया थाने पर भी गिरे. जिसमें एसपीओ गुरुचरण सिंह सैनी निवासी सोहागपुर घायल हो गए. जिसमे एक 8 साल की बच्ची और एक महिला की मौत हो गई. सुबह करीब साढ़े चार बजे अरनिया सेक्टर के बुधवार पोस्ट पर पाकिस्तानी रेंजरों ने अचानक छोटे हथियारों से गोलाबारी शुरू कर दी.

इसके बाद नेकोवाल पोस्ट और आधे घंटे बाद देवीगढ़ गांव को निशाना बना कर फायरिंग शुरू हो गई. गोलीबारी का यह सिलसिला करीब आठ बजे तक जारी रहा, जिसमें क्षेत्र की सभी 12 पोस्टों व करीब 30 गांवों को निशाना बनाया गया.

मालूम हो पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलेबारी का भारतीय सेना ने भी माकूल जवाब दिया था. जिसके बाद पाकिस्तान सेना ने भारतीय सेना को गोलीबारी रोकने निवेदन किया था. लेकिन इसके बाद भी पाकिस्तानी सेना अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi