S M L

लखनऊ : 65 वर्षीय ज्वेलर का अपहरण कर ले गए नेपाल, बेटे ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

एक सीसीटीवी फुटेज तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें कुछ लोग लखनऊ के मड़ियांव के सराफा कारोबारी 65 वर्षीय किशोरी लाला सोनी का अपहरण करते दिख रहे हैं

Updated On: Oct 06, 2018 11:42 AM IST

FP Staff

0
लखनऊ : 65 वर्षीय ज्वेलर का अपहरण कर ले गए नेपाल, बेटे ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

लखनऊ में विवेक तिवारी हत्याकांड का शोर अभी थमा भी नहीं था कि एक और मामला सामने आ गया है. एक सीसीटीवी फुटेज तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें कुछ लोग लखनऊ के मड़ियांव के सराफा कारोबारी 65 वर्षीय किशोरी लाला सोनी का अपहरण करते दिख रहे हैं. हालांकि यूपी पुलिस अपना बचाव करते हुए सफाई दे रही है कि यह अपहरण नहीं गिरफ्तारी है और नेपाल पुलिस ने ये कार्रवाई की है. वहीं मामला गरमाने के बाद लखनऊ पुलिस ने केंद्रीय जांच एजेंसियों से मदद मांगी है. इसके अलावा यूपी पुलिस ने नेपाल दूतावास में भी संपर्क किया है. दूसरी तरफ सराफा कारोबारी के बेटे ने पिता को छुड़ाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री, विदेश मंत्री व सीएम को पत्र लिखकर गुहार लगाई है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार यह घटना 28 सितंबर 2018 की बताई जा रही है. लखनऊ के मड़ियांव में प्रियदर्शनी कॉलोनी के रहने वाले किशोरी लाल सोनी पेशे से ज्वेलर हैं. वायरल सीसीटीवी फुटेज में उन्हें कुछ लोग जबरन कार में बैठा कर ले जाते हुए दिखाई दे रहे हैं. घटना के वक्त किशोरी लाल अपनी स्कूटी से घर की तरफ लौट रहे थे. सीसीटीवी फुटेज में साफ देखा जा सकता है कि इस दौरान काफी सारे लोग आए और उन्हें कार में बैठाकर ले गए. वहीं किशोरी लाल की स्कूटी को एक युवक लेकर चला गया. मामला सामने आने पर लखनऊ पुलिस ने सफाई देते हुए कहा कि नेपाल पुलिस ने व्यापारी किशोरी लाल सोनी को हत्या और लूट के पुराने मामले में गिरफ्तार किया है.

वहीं नेपाल पुलिस ने बताया कि किशोरी लाल पर 5 लोगों की हत्या का आरोप है. इसके बाद नेपाल पुलिस ने ही एसपी ट्रांस गोमती हरेंद्र कुमार को किशोरी लाल की गिरफ्तारी की सूचना दी है. तो वहीं दूसरी तरफ किशोरी लाल के बेटे विकास ने मड़ियांव थाने में अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया है. किशोरी लाल के बेटे विकास का कहना है कि नेपाल पुलिस ने एक मासूम भारतीय निवासी का अपहरण कर लिया और उन्हें नेपाल लेकर चले गए. क्या इस तरह से किसी को दूसरे देश में ले जाने के पीछे भारतीय सरकार की कोई जिम्मेदारी नहीं है.

विकास ने कहा- यूपी पुलिस ने बताया कि मेरे पिताजी को नेपाल पुलिस हत्या और लूट के पुराने मामले में पूछताछ के लिए नेपालगंज ले गई है. यूपी पुलिस के अनुसार वह उनके परिवार की कोई मदद नहीं कर सकते क्योंकि ये मामला फिलहाल नेपाल पुलिस के हाथों में है. विकास ने बताया कि यूपी पुलिस ने उनके परिवार को एक नंबर दिया जिसके जरिए विकास की अपने पिता के साथ फोन पर बात हुई. विकास ने बताया कि उसके पिता ने कहा कि लखनऊ में उनकी दुकान के सामने से उनका अपहरण हो गया था लेकिन वह नहीं जानते कि ये लोग उन्हें कहां पर लेकर आए हैं. विकास ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक उनके पिता ने भी यही बताया कि उनका कई सारे लोगों ने मिलकर अपहरण किया.

वहीं किशोरी लाल सोनी की पत्नी ने कहा कि इस मामले की जांच होनी चाहिए और उनके पति को जल्द से जल्द भारत वापस लाना चाहिए. उन्हें नेपाल पुलिस पर बिल्कुल भरोसा नहीं है. वहीं लखनऊ एसएसपी ने बताया- नेपाल पुलिस के अनुसार साल 2004 में किशोरी लाल सोनी की बेटी की शादी नेपाल में हुई थी. उसी साल नेपाल के नवदीप ज्वेलर्स में चोरी की वारदात भी हुई थी. इसी सिलसिले में उन्हें नेपाल में हिरासत में लिया गया है. हम नेपाल दूतावास के संपर्क में हैं और मामले की विस्तृत जांच कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi