live
S M L

कुलभूषण जाधव के साथ इन 54 परिवारों ने भी मांगी अपनों की रिहाई

1971 के 54 युद्धबंदियों की रिहाई का मामला फिर से उठाया जा सकता है.

Updated On: May 19, 2017 11:49 AM IST

FP Staff

0
कुलभूषण जाधव के साथ इन 54 परिवारों ने भी मांगी अपनों की रिहाई

कुलभूषण जाधव पर इंटरनेशनल कोर्ट का फैसला आने के बाद से देश में खुशी का माहौल है. इसी के साथ देश के उन 54 परिवारों में भी एक बार फिर से उम्मीद जग गई है. जिनके अपने सरहद पार पाकिस्तान की जेलों में हैं.

ये वो लोग हैं जिन्हें पाक ने 1971 में युद्ध के दौरान बंदी बनाया था. तब से लेकर आज तक उनकी रिहाई की कोशिशें चल रही हैं. वहीं पाक ने अब ये मानने से इंकार कर दिया है कि उसके यहां भारत का कोई युद्धबंदी है.

War-Captive_List-11

हालांकि युद्धबंदियों के परिजन समय-समय पर अपनों के वहां होने के सबूत देते रहते हैं. ऐसे ही एक युद्धबंदी फ्लाइट लेफ्टीनेंट मनोहर पुरोहित के बेटे विपुल पुरोहित बताते हैं कि पाक जेल में 17 आर्मी अफसर, 12 सिपाही, 24 एयर फोर्स अफसर और एक नेवी अफसर बंद हैं.

एक युद्धबंदी के परिवार में पाकिस्तान से आए एक खत को भी सबूत के तौर पर रखा जा चुका है. लेकिन पाक किसी भी सबूत को मानने से इंकार करता रहा है. लेकिन अब कुलभूषण जाधव पर आए फैसले के बाद फिर से इन सभी परिवारों में उम्मीदें जगी है.

Pak-111-copy

वहीं पाक की जेल में बंद 15 पंजाब रेजीमेंट के मेजर एसपीएस बराइच की बेटी डा. सिम्मी कहती हैं कि यही सही वक्त है जब 1971 के 54 युद्धबंदियों की रिहाई का मामला फिर से उठाया जा सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi