S M L

बुरहान की मौत के बाद हुई अशांति से गई 51 की जान: सरकार

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि इस अवधि में गोलियों, पैलेट, पावा शेल और अन्य की गोलीबारी में 9042 लोग घायल हुए

Bhasha Updated On: Jan 12, 2018 04:44 PM IST

0
बुरहान की मौत के बाद हुई अशांति से गई 51 की जान: सरकार

जम्मू कश्मीर सरकार ने शुक्रवार को कहा कि वर्ष 2016 में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी की मौत के बाद कश्मीर में फैली आठ महीने की अशांति के दौरान 51 लोगों की जान गई और नौ हजार से अधिक घायल हुए. इसमें पैलेट से घायल छह हजार से अधिक लोग भी शामिल हैं.

राज्य विधानसभा में नेशनल कॉन्फ्रेंस के एक विधायक के सवाल के लिखित जवाब में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा कि अशांति में आठ जुलाई 2016 से 27 फरवरी 2017 तक कश्मीर संभाग में 51 लोगों की मौत हुई.

उन्होंने कहा कि इस अवधि में गोलियों, पैलेट, पावा शेल और अन्य की गोलीबारी में 9042 लोग घायल हुए. उन्होंने कहा कि इनमें से 6221 लोग पैलेट से, 368 गोली, चार पावा शेल और 2449 अन्य से घायल हुए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि करीब 782 लोगों को आंख में चोट लगी जिसमें से 510 को अस्पताल में भर्ती कराया गया. पैलेट से घायल 5197 लोगों का जिला अस्पतालों में इलाज चल रहा है और बाकी को सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों में भेजा गया.

महबूबा ने कहा कि सबसे ज्यादा 16 मौतें अनंतनाग जिले में जबकि कुलगाम जिले में 13, पुलवामा में सात और कुपवाड़ा में पांच मौतें हुईं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi