S M L

नेता नंदमुरि हरिकृ्ष्णा के शव के साथ ली थी सेल्फी, नौकरी से निकाले गए अस्पताल कर्मचारी

कामिनेनी हॉस्पिटल में काम करने वाले चार कर्मचारियों ने नंदमूर्ति का शव लाए जाने के बाद उनके साथ सेल्फी ली थी

Updated On: Sep 01, 2018 11:56 AM IST

FP Staff

0
नेता नंदमुरि हरिकृ्ष्णा के शव के साथ ली थी सेल्फी, नौकरी से निकाले गए अस्पताल कर्मचारी

29 अगस्त को एक सड़क हादसे का शिकार हुए एनटीआर के बेटे और नेता नंदमूर्ति हरिकृष्णा का निधन हो गया था. अवाक करने वाले घटनाक्रम के तहत अस्पताल में उनके शव के साथ चार अस्पताल कर्मचारियों को ने सेल्फी ली थी और उसे पोस्ट किया था. अब उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, नरकेतपल्ली के कामिनेनी हॉस्पिटल में काम करने वाले चार कर्मचारियों ने नंदमूर्ति का शव लाए जाने के बाद उनके साथ सेल्फी ली थी. पुरुष नर्स नरसिम्हा ने इसे कइयों के बाद शेयर किया जिसके बाद ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई.

ये फोटो तब की है जब कैजुअल्टी वार्ड में लाए गए नंदमूर्ति को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. जब वो वार्ड से बाहर आए तब इन चारों कर्मचारियों ने उनके शव के साथ सेल्फी ली.

कामिनेनी हॉस्पिटल के डीजीए श्रीधर रेड्डी ने इस घटना पर क्षोभ जताते हुए कहा कि 'इस घटना से हम बहुत शर्मिंदा हैं. हमने नंदमूर्ति हरिकृष्णा को बचाने की जितनी कोशिशें कीं, वो सब इस इन कर्मचारियों की शर्मनाक हरकत के आगे मिट्टी में मिल गईं. हमारे डॉक्टरों ने नंदमूर्ति को बचाने के लिए उन्हें दो घंटों तक सीपाआर दिया लेकिन जब सारी कोशिशें फेल रहीं तो वो कैजुअल्टी वार्ड से बाहर आ गए. तभी वहां डॉक्टरों की मदद के लिए और उनकी बॉडी से खून साफ करने के लिए मौजूद चार कर्मचारियों ने उनके शव के साथ सेल्फी ली. हम इस घटना के बारे सुनकर हैरान हैं.'

रेड्डी ने बताया कि अस्पताल ने इसकी जानकारी होते ही पुरुष नर्स डी नरसिम्हा, महिला नर्स के हीमजा, पी सुमलता और अया टी आदिशेषु कुमारी को नौकरी से निकाल दिया. अस्पताल ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाकर कानूनी कार्रवाई की भी मांग की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi