S M L

मुंबई रेलवे ट्रैकः पिछले साल 3,014 यात्रियों की गई जान, RTI से हुआ खुलासा

पश्चिमी, मध्य और हार्बर उपनगरीय सेवा में ट्रैक पर कम से कम 3,014 यात्री मारे गए हैं

Bhasha Updated On: Jan 26, 2018 07:10 PM IST

0
मुंबई रेलवे ट्रैकः पिछले साल 3,014 यात्रियों की गई जान, RTI से हुआ खुलासा

उपनगरीय रेलवे को मुंबई की लाइफ लाइन कहा जाता है. लेकिन पिछले वर्ष शहर में ट्रेन दुर्घटनाओं में तीन हजार से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवाई है. एक आरटीआई में इस बात का खुलासा हुआ है.

राज्य रेलवे पुलिस (जीआरपी) की ओर से उपलब्ध कराए गए आकडों के अनुसार पश्चिमी, मध्य और हार्बर उपनगरीय सेवा में ट्रैक पर कम से कम 3,014 यात्री मारे गए हैं.

आरटीआई के जवाब में कहा गया, ‘2017 में सभी उपनगरीय स्टेशनों (तीनों लाइनों) में जितनी मौतें हुई हैं उनमें से 1,467 पुरूष और 184 महिलाओं सहित कुल 1,651 लोग रेलवे पटरी पार करते समय मारे गए. वहीं 654 यात्री चलती ट्रेन से गिर कर मर गए.

मध्य रेलवे जीआरपी के एसीपी एम. चव्हाण ने बताया कि इन मौतों के तीन मुख्य कारण हैं- आत्महत्या, ट्रेन से गिरना और ट्रैक पार करते समय ट्रेन की चपेट में आना.

उन्होंने कहा कि आत्महत्याओं पर नियंत्रण नहीं है लेकिन शेष दो कारणों से होने वाली मौतों को रोका जा सकता है. शहर के कार्यकर्ता समीर झावेरी ने आरटीआई दाखिल की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi