S M L

अलविदा 2016 : सोशल मीडिया, सुर्खियां और संग्राम

2016 में सोशल मीडिया में कई सुर्खियां बनीं तो कई विवाद भी खड़े हुए. कोई हीरो बना तो कोई खलनायक नजर आया.

Updated On: Dec 29, 2016 09:43 PM IST

Kinshuk Praval Kinshuk Praval

0
अलविदा 2016 : सोशल मीडिया, सुर्खियां और संग्राम

जमाना आज सोशल मीडिया का है. अपनी बात और विचारों को दुनिया से शेयर करना इस मंच की खास पहचान है. कंप्यूटर और स्मार्टफोन से मिलने वाले इस प्लेटफॉर्म पर हर कोई अपनी बात कहने को आजाद है. लेकिन ये ही बेबाकी और आजादी कई बार अपनी हदें लांघ जाती है तो विवाद खड़ा हो जाता है. साल 2016 में सोशल मीडिया में कई सुर्खियां बनीं तो कई विवाद भी खड़े हुए. किसी के ट्वीट से कोई हीरो बना तो कोई खलनायक नजर आया.

सोशल मीडिया ने दिलाया मॉडलिंग ऑफर

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के एक चायवाले की तस्वीर सोशल मीडिया पर रातों रात वायरल हो गई. ट्रेंड करती इस तस्वीर की खासियत नीली आंखों वाले लड़के का फेस था. फोटोग्राफर जिया अली ने अरशद खान नाम के चाय बेचने वाले इस युवा की तस्वीर इंस्टाग्राम पर डाला. जहां से लोगों ने इसे फेसबुक और ट्विटर पर सर्च किया और खूब शेयर किया.

मजेदार बात ये थी कि सोशल मीडिया पर रातों रात हीरो बनने वाले अरशद खान को मॉडलिंग के ऑफर भी मिलने लगे. पाकिस्तान के कुछ टीवी चैनलों ने उसके इंटरव्यू तक कर डाले.

सोशल मीडिया पर हिट ‘अनोखे’ अलोम

हीरो बनने के लिए क्या चाहिए ?  आम तौर पर जवाब होता है सुंदर चेहरा, शानदार बॉडी और स्मार्ट पर्सनालिटी. लेकिन बांग्लादेश का सोशल मीडिया और यू-ट्यूब हीरो अशर्फुल अलोम इससे बिल्कुल जुदा है. साधारण, दुबले-पतले और सांवले से दिखने वाले अशर्फुल अलोम, हीरो अलोम नाम से फेमस हो गए. साल के अंत में अलोम भारत में अचानक से सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगा.

Alom

अलोम बांग्लादेश में अब तक 500 म्यूजिक वीडियो बना चुके हैं. इनमें वो खुद हीरो बनते हैं और उनकी हीरोईन या मॉडल गोरी रंगों वाली होती है.

उनके वीडियो से तस्वीरें लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने इसे खूब शेयर की. हालांकि अधिकतर यूजर्स ने हीरो अलोम के रंग-रुप का जमकर मजाक उड़ाया. जबकि, कुछ लोगों ने अलोम के टैलेंट की तारीफ भी की.

आठवीं क्लास फेल अलोम बचपन में फेरी लगाते थे. बड़े होने पर वो केबल टीवी का काम करने लगे. बांग्लादेश के क्रिकेटर मुशफिकुर रहीम से स्टेडियम के बाहर अलोम का मिलना भी खासा सुर्खियों में रहा था.

सुर्खियों में ‘सब्जी’ वाली नेपाली सुंदरी

भारत के पड़ोसी देश नेपाल में एक लड़की सोशल मीडिया पर रातों रात फेमस हो गई. ये न तो वहां की कोई फिल्म स्टार थी. न ही राजघराने से ताल्लुक रखने वाली कोई हस्ती. नेपाली फोटोग्राफर रुपचंद्र महाराजन ने काठमांडू की एक लोकल सब्जी मंडी में. सब्जी बेचने वाली लड़की की फोटो क्लिक कर उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया.

एक दूसरी तस्वीर में लड़की गोरखा और चितवन के बीच बने फिशलिंग सस्पेंशन ब्रिज पर नजर आ रही है. सुंदर सूरत वाली लड़की की तस्वीर देखते ही यूजर्स उसे धड़ाधड़ शेयर करने लगे. कुछ ही देर में उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई.

हैशटैग #Tarkariwali के साथ फोटो शेयर करने वाले लोग सब्जी वाली लड़की की सादगी और सुंदरता की तारीफ करने लगे.

करेंसी नोटों वाली ‘सोनम गुप्ता बेवफा है’ !

भारत में काफी समय से लोगों की करेंसी नोटों पर लिखने की आदत रही है. लोग अक्सर अपनी पहचान या फेवरिट चीजों और कुछ-कुछ नोटों पर लिख देते हैं. ऐसे ही एक 10 रुपये के नोट पर ‘सोनम गुप्ता बेवफा है’ लिखा हुआ आया. देखते ही देखते ये नोट और मैसेज वायरल हो गया. लोग धड़ाधड़ इसे अपने फेसबुक, वाट्सएप और ट्विटर पर शेयर करने लगे.

Sonam-Gupta

‘सोनम गुप्ता बेवफा है’ का जवाब भी तुरंत आया. किसी ने फिर नोट पर लिखकर ‘सोनम गुप्ता’ का जवाब शेयर किया. शहरों से लेकर गांवों तक तो दफ्तर से लेकर दुकान तक हर कोई ये पूछ रहा था ‘सोनम गुप्ता कौन है?’ सोनम गुप्ता की पॉपुलैरिटी को कैश कराने के लिए दिल्ली के कुछ रेस्टोरेंट्स ने अपने यहां सोनम गुप्ता नाम की ग्राहकों को अपने यहां डिस्काउंट ऑफर किया. सोनम गुप्ता या उसे लिखने वाले का कहीं पता नहीं चला. जिससे इसके फोटो शॉप होने की संभावना है. जो भी हो ‘सोनम गुप्ता’ के बहाने एक बार फिर हिंदुस्तान में नोटों पर लिखने की गंदी आदत सबके सामने आ गई.

कपिल का ‘करप्शन’ वाला ट्वीट

मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा का एक ट्वीट उनके ही गले की हड्डी बन गया. कपिल ने पीएम मोदी को ट्वीट किया जो साल की सुर्खियां बन गई. कपिल ने अपने ट्वीट में सवाल किया कि- क्या यही हैं अच्छे दिन ? कपिल ने ट्वीट कर बॉम्बे म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (बीएमसी) के भ्रष्टाचार पर सवाल उठाया. कपिल ने कहा कि, ‘मैं 5 साल से 15करोड़ रुपए इनकम टैक्स चुकाता रहा हूं. और अपना दफ्तर बनाने के लिए मुझे बीएमसी को 5 लाख रुपए घूस देना पड़ रहा है’.

दूसरे ट्वीट में कपिल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के चुनावी वादे पर चुटकी लेते हुए पूछा कि, ‘क्या यही हैं आपके अच्छे दिन?’. इसपर जब हो-हल्ला मचा और जांच हुई तो कपिल पर ही अवैध निर्माण का आरोप लगा.

kapil sharma

सिर्फ ‘गांधी’ सरनेम पर नामकरण क्यों ?

अपने जमाने के ‘लवर ब्वॉय’ ऋषि कपूर के ट्वीट भी अक्सर विवादों की वजह बन जाते हैं. इस साल 17 मई को उन्होंने ट्वीट किया कि, ‘कांग्रेस द्वारा गांधी परिवार के नाम पर रखी गई संपत्तियों के नाम बदलिए. बांद्रा-वर्ली सी लिंक का नाम लता मंगेशकर या जेआरडी टाटा लिंक रोड रखिए. बाप का माल समझ रखा है क्या?’ ऋषि इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने कहा कि, ‘हमलोगों को देश की अहम संपत्तियों के नाम वैसे लोगों के नाम पर रखना चाहिए, जिन्होंने समाज के लिए अपना योगदान किया है. हर चीज गांधी के नाम पर. मैं इससे सहमत नहीं हूं’.

rishi kapoor

एक के बाद एक ट्वीट कर ऋषि कपूर ने कहा कि, फिल्मसिटी का नाम दिलीप कुमार, देव आनंद, अशोक कुमार या अमिताभ बच्चन के नाम पर रखा जाना चाहिए. राजीव गांधी उद्योग क्या होता है? सोचो, दोस्तों.

कपूर ने कहा कि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा? महात्मा गांधी, भगत सिंह, अंबेडकर या मेरे, ऋषि कपूर के नाम पर क्यों नहीं? इतना सतही. क्या कहना है?

ऋषि के टिप्प्णी भरे ट्वीट पर पक्ष और विपक्ष दोनों तरह के पोस्ट ट्विटर पर छा गए. इससे पहले, 2015 में भी ऋषि के ट्वीट से विवाद खड़ा हो गया था. जब उन्होंने महाराष्ट्र में गोमांस बैन किए जाने का विरोध करते हुए लगातार कई ट्वीट किए थे.

फेसबुक पर इस्तीफे का ऑफर

इसी साल अगस्त महीने में गुजरात की सीएम आनंदी बेन पटेल ने अपने इस्तीफे की पेशकश के लिए फेसबुक को चुना. आनंदी बेन लंबे समय तक गुजरात में मोदी सरकार में मंत्री रह चुकी थीं. 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद वो राज्य की पंद्रहवीं मुख्यमंत्री बनी थीं. आनंदी बेन गुजरात की सीएम बनने वाली पहली महिला थीं.

anandi ben patel

शोभा डे का ‘अशोभनीय’ ट्विट

रियो ओलंपिक में भारतीय दल के निराशाजनक प्रदर्शन पर लेखिका शोभा डे के ट्वीट पर खासा विवाद खड़ा हो गया. शोभा डे ने 8 अगस्त को अपने ट्वीट में कहा, ‘ओलंपिक में टीम इंडिया का लक्ष्य- रियो जाओ, सेल्फी लो और खाली हाथ लौट आओ’. शोभा इतने पर भी नहीं रुकीं. उन्होंने कहा कि, पैसों और समय का गजब नुकसान.

shobha dey

शोभा डे के अपमानजनक ट्वीट के लिए ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा, बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा और टेनिस खिलाड़ी सोमदेव देव बर्मन समेत कई दूसरे खिलाड़ियों ने उनकी कड़ी आलोचना की. आम लोगों ने भी इसे लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया. वहीं, पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और महानायक अमिताभ बच्चन ने ओलंपिक खिलाड़ियों का पूरा समर्थन किया.

दीदी के ट्विट से सियासी बखेड़ा

कुछ दिन पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के एक ट्वीट से सियासी बखेड़ा खड़ा हो गया. ममता ने ट्विट कर कोलकाता में नाकों पर सेना के जवानों की तैनाती का कड़ा विरोध जताया. उन्होंने लिखा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए वो कोलकाता से सेना हटा लिए जाने तक सचिवालय में ही रहेंगी. इसपर सेना ने साफ किया कि, वह हर साल होने वाले रुटीन अभ्यास के सिलसिले में कोलकाता में तैनात थी.

mamta banerjee

इसके अलावा ट्विटर पर अभिजीत और कमाल आर खान (केआरके) के कई ट्विट भी इस साल विवादों की लिस्ट में शामिल रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi