S M L

दो साल तक लटकने के बाद दिसंबर में खुल सकता कालिंदी कुंज पुल

इस प्रोजेक्ट को 2014 में शुरू किया गया था. इस प्रोजेक्ट को अगस्त 2016 में पूरा होना था. लेकिन फंडिग की दिक्कत के कारण डेडलाइन को मार्च 2017 तक बढ़ा दिया गया था. और उसके बाद नवंबर 2018 कर दिया गया

Updated On: Nov 06, 2018 03:21 PM IST

FP Staff

0
दो साल तक लटकने के बाद दिसंबर में खुल सकता कालिंदी कुंज पुल
Loading...

कालिंदी कुंज के पास ओखला बराज के समानांतर एक नया पुल बनाया जा रहा है. वैसे तो इस पुल को दो साल पहले ही पूरा हो जाना चाहिए था, पर यह अभी तक बन ही रहा है. वैसे अब नोएडा ऑथोरिटी के लोगों ने कहा है कि पुल इस साल दिसंबर तक तैयार हो जाएगा. इसके पहले इस पुल के तैयार हो जाने की डेडलाइन नवंबर 2018 थी.

दो वजहों से यह डेडलाइन हासिल नहीं हो पाया है. पहला शाहदरा ड्रेन को चौड़ा करने का काम नहीं पूरा नहीं हो पाया है. यह ड्रेन कालिंदी कुंज पुल से जुड़ेगा. दूसरा पर्यावरण में प्रदूषण की भयावह स्थिति को देखते हुए पूरे एनसीआर में 1 नवंबर से दस दिनों के लिए किसी भी तरह के निर्माण कार्य पर रोक लगा दी गई है. ऑथोरिटी का कहना है कि पुल का काम 93 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है. और जनता के लिए इसे दिसंबर में खोल दिया जाएगा.

2014 में शुरू हुआ था काम:

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार इस प्रोजेक्ट को 2014 में शुरू किया गया था. पहले प्लान के मुतबिक, इस प्रोजेक्ट को अगस्त 2016 में पूरा होना था. लेकिन फंडिग की दिक्कत के कारण डेडलाइन को मार्च 2017 तक बढ़ा दिया गया था. उसके बाद इसकी डेडलाइन नवंबर 2018 कर दिया गया. इस पुल के बनने से रोजाना दिल्ली, नोएडा और फरीदाबाद आने जाने वाले लोगों को राहत मिलेगी.

कालिंदी कुंज से बोटैनिकल गार्डन को जोड़ने वाली मजेंटा लाइन मेट्रो से ये पुल सिर्फ 40 मीटर की दूरी पर है. इससे लोगों को और राहत मिलेगी. 618 मीटर लंबा यह कालिंदी कुंज पुल 15 पिलरों पर बना है. इसमें तीन लेन की सड़कें होंगी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi