S M L

ऊंची जाति की लड़की को चॉकलेट देने पर लड़के की कपड़े उतारकर पिटाई

कोल्हापुर पुलिस ने लड़की के आरोपी दोनों रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर लिया है और पीड़ित लड़के को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है

Updated On: Sep 23, 2018 11:02 AM IST

FP Staff

0
ऊंची जाति की लड़की को चॉकलेट देने पर लड़के की कपड़े उतारकर पिटाई

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में बीते 2 दिन से तनाव का माहौल बना हुआ है. इसकी वजह यहां पर एक 13 साल के लड़के की बेरहमी से हुई पिटाई और बाद में उसके कपड़े उतारकर गांव में सरेआम घुमाया जाना.

दरिंदगी का यह इल्जाम कुछ गांव के ही कुछ लोगों पर लगा है जिन्हें अपनी इस हरकत से मानवता और इंसानियत को शर्मसार कर दिया. इस घटना के पीछे की वजह जानकर आप हैरान रह जाएंगे के आजादी के 71 वर्ष बाद में देश में ऐसा कुछ होता है.

दरअसल पीड़ित 13 साल के इस दलित लड़के की गलती बस इतनी थी कि उसने अपने से ऊंची जाति की लड़की को चॉकलेट दी थी. जब यह बात लड़की के परिजनों को पता चली तो उन्होंने उस लड़के की बेरहमी से पिटाई कर दी और उसे उसके घर से लेकर ग्राम पंचायत के कार्यालय तक बिना कपड़ों के परेड कराई.

स्कूल से लौटते वक्त पकड़ा था लड़की का हाथ

अजारा पुलिस स्टेशन के पुलिस अफसर ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि पीड़ित लड़के और लड़की का परिवार एक दूसरे को पहले से जानते थे. पिछले महीने उस लड़के ने स्कूल से घर लौटते समय लड़की को चॉकलेट ऑफर की थी और उसका हाथ भी पकड़ा था. लड़की ने घर आकर अपने माता-पिता को इस घटना के बारे में बताया था जिसके बाद से दोनों परिवारों के बीच तनाव की सी स्थिति बन गई थी. पुलिस ने बताया कि लड़की की सुरक्षा को देखते हुए उसे उसके माता-पिता ने मुंबई में अपने रिश्तेदार के यहां भेज दिया था.

लड़के के कपड़े उतार कराई गई परेड

इसके बाद बीते शुक्रवार को लड़की के एक अंकल और उनके एक दोस्त ने मिलकर उस 13 साल के लड़के को उठाया और एक कमरे में बंद कर उसकी जमकर पिटाई की. इसके बाद उसके कपड़े उतार दिए गए और ग्राम पंचायत कार्यालय तक उसकी परेड कराई गई. सिर्फ इतना ही नहीं वो लोग उस लड़के को और उसके परिवार वालों को गालियां भी दे रहे थे.

मामला सामने आने पर कोल्हापुर पुलिस ने लड़की के दोनों रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर लिया है और पीड़ित लड़के को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है. अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने दावा किया है कि फिलहाल गांव में हालात सामान्य हैं. दोनों समुदायों के सदस्यों के साथ बैठक करने के बाद गांव में शांति का माहौल है. दोनों आरोपियों को आईपीसी की धारा 452, 323 और 504 के तहत गिरफ्तार किया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi