S M L

'गुलाम' में वीर ने क्यों की अपनी ही मां के खिलाफ बगावत ?

बेरहमपुर की सत्ता के लिए अपनी मां गुलगुली के खिलाफ खड़ा हो गया है वीर

Updated On: Jun 17, 2017 07:07 PM IST

Rajni Ashish

0
'गुलाम' में वीर ने क्यों की अपनी ही मां के खिलाफ बगावत ?

लाइफ ओके के पॉपुलर शो 'ग़ुलाम' में सरकार के लापता होने पर अब सभी के जेहन में यही सवाल है की सरकार के बाद अब बेरहमपुर की सत्ता कौन संभालेगा.

आखिरकार इसका फैसला भी हो ही गया की सरकार की जगह उनका कोई बेटा नहीं बल्कि उनकी पत्नी गुलगुली लेगी और गुलगुली ने राजगद्दी पर बैठने का अब कर लिया है फैसला.

gugluli

क्यों की वीर ने अपनी मां गुलगुली के खिलाफ बगावत ?

गुलगुली ने बेरहमपुर की सत्ता संभाल ली है और बैठ गयी हैं सरकार की राजगद्दी पर.लेकिन ये बात शायद उसके ही बेटे वीर को नागवार गुज़र गयी और उसने अपनी ही मां के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक दिया.

दरअसल सरकार के गायब होने के बाद सभी की नजर बेरहमपुर की सत्ता के तख्त पर थी.सबसे पहले उस पर बैठने का फैसला लिया सरकार की बीवी गुलगुली ने. लेकिन जैसे ही ये बात उसके बेटे वीर को पता चली वो पहुंच गया अपनी मां से बगावत करने.

दरअसल वीर खुद ही बेरहमपुर की सत्ता संभालने की इच्छा रखता है और यही बात उसने अपनी मां से भी कह दी. यहां तक कि वीर ने ये भी कह दिया कि वो ही है वहां की सत्ता का असली हकदार. जो उसे अच्छे से संभाल भी सकता है.वीर की ये बात सुनते ही उसका भाई टिका देता है उसी पर बन्दूक और कहता है की यहां से चला जा वरना तुझे मौत के घात उतार दूंगा.

इसके बाद ये साफ हो गया है की अब बेरहमपुर की सत्ता के लिए बेटा मां और भाई -भाई से लड़ेगा. इस खूनी जंग किसकी जीत होती है इसका दर्शकों को रहेगा इंतजार.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi