विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

Teachers Day: टीवी स्टार्स ने इस दिन अपने प्रिय शिक्षक को याद करते हुए किया सेलिब्रेट

टीवी स्टार्स ने अपने माता-पिता से लेकर अपने फेवरेट टीचर्स तक को आज टीचर्स डे पर याद किया

Rajni Ashish Updated On: Sep 05, 2017 02:13 PM IST

0
Teachers Day: टीवी स्टार्स ने इस दिन अपने प्रिय शिक्षक को याद करते हुए किया सेलिब्रेट

गुरु गोविंद दोउ खड़े काके लागूं पांय।

बलिहारी गुरु आपने जिन गोविंद दियो बताय।।

5 सितंबर को भारत के दूसरे राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के अवसर पर हर साल शिक्षक दिवस मनाया जाता है. जीवन में शिक्षक का महत्व क्या होता है ये हमारे शास्त्रों से लेकर हर वेद-पुराण में देखने को मिलता है. आज के दिन हर खास-ओ-आम अपने प्रिय शिक्षक को याद करते हैं. ऐसे में टीवी इंडस्ट्री के स्टार्स कहां पीछे रहने वाले हैं. इन स्टार्स ने इस दिन अपने फेवरेट टीचर को याद किया.

अंकित सिवाच

Ankit Siwach

एक शिक्षक, जिसने मुझे जीवन के बारे में सब कुछ सिखाया वो लखविंदर मैडम हैं. वो मेरी सोल सिस्टर हैं. वो मुझे कॉलेज में अकाउंट्स टीचर और स्पोर्ट्स हेड के तौर पर मिली, तब से वो मेरे साथ मेरे जीवन में एक शिक्षक, एक संरक्षक, एक मार्गदर्शक और सबसे ऊपर एक बड़ी बहन के तौर हैं.

रमन हांडा

Ramman Handa (7)

समय जीवन में असली शिक्षक है और यह आपको सब कुछ सिखाता है. समय को आपको प्रत्येक सेकेंड का मूल्य सिखाता है. इसके अलावा, मैंने श्रीमती दीपा भार्गव से भी बहुत कुछ सीखा है. उन्होंने मुझे धैर्य के बारे में सिखाया. मैं कभी भी वो बात नहीं भूल सकता, जब भी वो मुझे देखती थीं उनके चेहरे पर बड़ी सी मुस्कुराहट होती थी. मैंने खुश रहना और हर स्थिति में मुस्कुराते रहने की कला उनसे ही सीखी है. मैं कृतज्ञता के ऋणों को कभी भी चूका नहीं सकता.

करण ओबेरॉय

Karan Oberoi

मुंबई में मेरे शिक्षक उवी हैं. वह एक उम्दा संगीतकार और पार्श्व गायक हैं. उन्होंने मुझे बहुत कुछ सिखाया है. वह एक सच्चा दोस्त है और एक अदम्य आत्मा है, साथ ही उसका हंसमुख स्वभाव मुझे प्रभावित करता है. उसकी ये सब विशेषताएं व्यक्तिगत विकास में बेहद सहयोगी साबित होती हैं और विशेषकर जब जीवन में बुरे वक्त से निपटने के लिए ये काफी मददगार होते हैं.

नूतन राय

Nutan Rai-5

जीवन में सबसे अच्छे शिक्षक मेरे माता-पिता होंगे. मेरे माता-पिता ने मुझे सही और गलत के बीच फर्क समझना और बुनियादी शिष्टाचार सिखाया है. अपने अनुभवों के माध्यम से उन्होंने मुझे महान मूल्य प्रदान किए हैं. मेरे माता-पिता जैसा और कोई व्यक्ति नहीं है. उन्होंने मुझे सिखाया है कि कैसे दूसरों का सम्मान करें और नम्र रहें. कई माता पिता अपने बच्चों को इन मूल्यों को नहीं देते हैं, यहां तक कि अपने बच्चों वक्त नहीं दे पाते हैं. मैं उन्हें अपने माता-पिता के रूप में बहुत भाग्यशाली हूं.

जैस्मीन भसीन

Jasmin Bhasin (8)

मेरे लिए, सबसे बड़ा शिक्षक हमेशा समय रहा है क्योंकि मुझे लगता है कि समय हमें सबकुछ सिखाता है. समय ने सिखाया है कि कैसे धैर्य से, दृढ़ता से और जीवन के उतार-चढ़ाव कैसे निपटूं ? जीवन विशेष है और आप इसे केवल एक बार जीते हैं, इसलिए आपको सीखना होगा कि इसे कैसे सार्थक बनाया जाए ?

रोहित पुरोहित

Rohit Purohit-new

मेरे पिता मेरे लिए सबसे बड़े शिक्षक हैं. उन्होंने न केवल मुझे अच्छी तरह से संतुलित जीवन जीना सिखाया बल्कि इसके साथ साथ सही और गलत में फर्क करना सिखाया है. मेरे बचपन के दौरान, मैं कार चलाने का सपना देखता था और मैं उन लोगों की तरफ आकर्षित हो जाता था जिनके पास बड़ी कारें होती थीं. लेकिन मुझे मेरे पिता जी ने कभी भी कार चलाने की अनुमति नहीं दी क्योंकि मेरे पास उस समय ड्राइविंग लाइसेंस नहीं था. मुझे पिता ने हमेशा नियमों का पालन करना सिखाया है.

सारा आरफीन खान

Sara Arfeen Khan (2)

मेरे जीवन में बहुत सारे शिक्षक हैं. मेरा पहला शिक्षक मेरी मां है. उन्होंने मुझे आर्ट के हर फॉर्म से रूबरू करवाया. उन्होंने मुझे डांसिंग, सिंगिंग और पेंटिंग सबकुछ सिखाया. मुझे आश्चर्य होता था कि वो मुझे इतने सारी चीजें क्यों सिखाती हैं ? लेकिन मेरी क्रिएटिविटी के लिए अब मैं उन्हें सलाम करती हूं. उसने मुझे दया, विनम्रता और कृतज्ञता जैसे महत्वपूर्ण चीजों के बारे में शिक्षा दी है. मेरे दूसरे शिक्षक मेरे पति हैं उन्होंने मुझे कुछ सिखाया है कि कैसे खुद को मजबूत रखना चाहिए और प्रतिकूल परिस्थितियों में मानसिक शक्ति का उपयोग कैसे करना है ? आपके जीवन में, जब तक कि आपका मन मजबूत न हो, आप वास्तव में चुनौतियों पर विजय प्राप्त नहीं कर सकते. मेरा तीसरा शिक्षक प्रवीण आंटी हैं. उन्होंने मुझे धर्म के बारे में सब कुछ सिखाया. उन्होंने कुरान पढ़ने और समझने में मेरी मदद की है.

शार्दुल पंडित

Shardul in white one more

मेरे पास दो अद्भुत शिक्षक हैं. एक मेरी बहन है, जो एक अद्भुत इंसान हैं और दूसरा मेरी पूर्व एक्स हैं. मेरी बहन सबसे सकारात्मक और मजबूत व्यक्ति है. मैंने उन्हें देखकर सीखा है कि जीवन को सही तरीके से कैसे जीना है. मेरी एक्स ने मुझे खुद की रेस्पेक्ट और प्यार करना सिखाया है.

शक्ति अरोड़ा

Shakti Arora (2)

मेरे जीवन के सबसे बड़े शिक्षक मेरे नाना चंद्रशेखर जी हैं. उन्होंने मुझे अभिनय कला के साथ और जीवन में नम्र रहना सिखाया है. वो एक बड़े स्टार थे, उसके बावजूद उन्होंने जिस तरह से स्टारडम को हैंडल करते हुए पीआर स्किल को मेंटेन किया ये उनसे सिखने वाली चीज थी. अपने करियर में रिश्तों को कैसे बनाए रखना है ये मैंने उनसे सीखा है.

नेहा सक्सेना

Neha Saxena (1)

स्कूल में मेरे पसंदीदा टीचर मेरे केमिस्ट्री टीचर थी. उनका नाम रेखा है. उनसे सबसे अच्छी बात मैंने जो सीखी वो ये कि पढ़ाई को लेकर आपको ईमानदार होना चाहिए. हालांकि, मैंने उनसे इससे भी ज्यादा चीजें सीखी थी. मैंने उनके साथ जीवन के कुछ सबसे यादगार दिन बिताए हैं.

शरद मल्होत्रा

Ssharad Malhotraa brand new pic

मेरी मां मेरी असली शिक्षक हैं . उन्होंने महान मूल्यों के साथ मुझे बड़ा किया है और जो भी मैं आज हूं वो उन्हीं की वजह से हूं. उन्होंने मुझे जीवन कभी ना हार मानना सिखाया है,जो अब तक मेरा सबसे मूल्यवान सबक रहा है.

मृणाल जैन

tumblr_mx23ftwKRy1s2q2y6o1_r1_1280

अगर मुझे उन शिक्षकों के बारे में बात करनी है जिन्होंने मेरे जीवन में मुझे प्रेरित किया है तो सबसे पहले मुझे मेरे पिता के बारे में बात करनी होगी. वो मेरे लिए एक सच्चे प्रेरणा रहे हैं. उन्हें बहुमूल्य जीवन जीता हुआ देखकर, मैंने बहुत कुछ सीखा है.

चंदन आनंद

Chandan Anand-2

मुझे मेरे माता-पिता से बहुत आशीर्वाद मिला है, जिन्होंने मुझे कुछ भी करने या अपने सपनों का पीछा करने से कभी नहीं रोका है. जो भी मैं हूं, मैं उनके कारण ही हूं. हां, वो कहते थे कि जो कुछ भी करो वो संतुलन में करो. उनकी एकमात्र सलाह दूसरों के लिए अच्छी चीजें करने और ईश्वर पर विश्वास रखने की थी. जब मैं बच्चा था, तो मैंने पढ़ाई से नफरत करता था, वो लोग मुझे डांटते थे लेकिन उन्होंने कुछ हद तक इसे भी सपोर्ट भी किया. उन्होंने हमेशा मुझे सपोर्ट किया.

ऋषिकेश पांडे

hrishikesh Pandey-3

स्कूल के बाहर मेरे सबसे प्रिय शिक्षक मेरे पिता हैं. जो अब इस दुनिया में नहीं है, उनका पिछले साल निधन हो गया. लेकिन मैं उनके संघर्षों को कभी नहीं भूल सकता. वो एक बहुत ही विनम्र और ग्राउंडेड थे. उन्होंने सभी को निस्संदेह मदद की और यही वह चीज है जो मैंने उनसे सीखा है. ये बात आपके अंदर से आती है. मैंने उनसे अनुशासन भी सीखा है जिससे मुझे बहुत मदद मिली है

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi