S M L

द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर के डायरेक्टर पर लगा धोखाधड़ी का आरोप, गिरफ्तार

विजय गुट्टे की कंपनी वीजीआर डिजीटल कॉर्पोरेशन ने जीएसटी मामले में 34 करोड़ रुपए का फ्रॉड किया है

FP Staff Updated On: Aug 03, 2018 11:07 AM IST

0
द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर के डायरेक्टर पर लगा धोखाधड़ी का आरोप, गिरफ्तार

आने वाली फिल्म ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर के डायरेक्ट विजय रत्नाकर गुट्टे को जीएसटी फ्रॉड के आरोप में मुंबई में गिरफ्तार कर लिया गया है. इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से पता चला है कि विजय गुट्टे की कंपनी वीजीआर डिजिटल कॉर्पोरेशन ने जीएसटी मामले में 34 करोड़ रुपए का फ्रॉड किया है.

कंपनी पर आरोप है कि उसने एनिमेशन और मैनपावर' के लिए 34 करोड़ के नकली इनवॉइस लिए. ये इनवॉइस कंपनी ने हॉरिजन आउटसोर्स सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक कंपनी से लिए, जिस पर खुद 170 करोड़ रुपए के जीएसटी धोखाधड़ी के आरोप है.

विजय गुट्टे के खिलाफ सेक्शन 132(1)(C) के मामला दर्ज किया गया है. नियमों के अनसार 5 करोड़ से ज्यादा की रकम गलत तरीके से लिए जाने पर दोषी को सजा के तौर पर जुर्माना और पांच साल की सजा भुगतनी पड़ सकती है.

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की जीवनी पर लिखी किताब द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर फिल्म बन रही है. फिल्म आने से पहले ही इसने मीडिया में सुर्खियां बटोर ली हैं. विजय रत्नाकर गुट्टे इस फिल्म के डायरेक्टर हैं.

गुट्टे ने अब तक बॉलीवुड में तीन फिल्में बनाई हैं. उनके पिता रत्नागर गुट्टे ने बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए की तरफ से गंगा खेड से 2014 में चुनाव लड़ा था लेकिन हार गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi