live
S M L

हिंदी फिल्में लोगों को समस्याओं से दूर ले जाती हैं: सूरज शर्मा

फिलौरी में सूरज अनुष्का शर्मा के साथ लीड रोल में नजर आएंगे

Updated On: Mar 22, 2017 07:51 PM IST

Runa Ashish

0
हिंदी फिल्में लोगों को समस्याओं से दूर ले जाती हैं: सूरज शर्मा

दिल्ली के लड़के सूरज शर्मा ने अपनी अलग पहचान बनाई है. पूरी दुनिया की नजरें सूरज की तरफ तब मुड़ी जब वह हॉलीवुड फिल्म लाइफ ऑफ पाई में नजर आए. अब सूरज बॉलीवुड में भी एंट्री कर रहे हैं. फिलौरी में सूरज अनुष्का शर्मा के साथ लीड रोल में नजर आएंगे.

सूरज ने फर्स्टपोस्ट हिंदी से बातचीत की. हमने जब सूरज से उनके देसी-विदेशी लुक के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा 'मुझे ये कभी समझ नहीं आया कि मैं गणितज्ञ रामानुजन जैसा क्यों दिखता हूं. लेकिन मुझे गणित बिल्कुल पसंद नहीं है. हालांकि मेरी मां को गणित बेहद पसंद है.'

सूरज आगे बताते हैं कि कभी शून्य की खोज करने वाले आर्यभट्ट की बायोपिक बनी तो उसमे मैं ही आर्यभट्ट का किरदार निभाउंगा. लेकिन फिर भी मुझे गणित से ज्यादा लोगों को पढ़ना और उनके बारे में जानना पसंद होगा. मुझे इतिहास, सोशियोलॉजी और एंथ्रोपोलॉजी पसंद है.

फर्स्टपोस्ट हिंदी: फिलौरी में आप काम कर रहे हैं तो आपको फिलौरी कैसे मिली?

सूरज: मै आगे फिल्में करना चाहता था और मुझे इस फिल्म के लिए पूछा गया कि क्या मैं ऐसी कोई फिल्म करना चाहूंगा. तो मैंने हां कह दिया. मैं अगर फिल्म चुनता हूं तो मुझे अच्छा रोल, अच्छी स्क्रिप्ट और अच्छे लोगों के साथ काम करना है मेरी ये ही इच्छा रही है.

Anushka Sharma

फिलौरी में अनुष्का भूत का किरदार निभा रही हैं

फर्स्टपोस्ट हिंदी: आपने जब फिल्म में अनुष्का के बारे में सुना तो कैसा रिएक्शन था. क्योंकि इसके पहले आपका नाम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ज्यादा मशहूर रहा है?

सूरज: हां मुझे जब मालूम पड़ा कि ये अनुष्का की फिल्म है तो मैं मन में सोच रहा था कि हिंदी फिल्मों का मेरा जितना भी सफर अभी तक रहा है उसमें इस फिल्म के लिए अनुष्का मेरे साथ में ही रहें क्योंकि भारत में फिल्में करना बहुत ही अलग है.

तो मैं चाहता था कि वो मुझे हर कदम पर गाइड करें, क्योंकि मुझे उनका काम बहुत अच्छा लगा है और यकीन है कि वो मेरे रोल के साथ न्याय ही करेंगी.

फर्स्टपोस्ट हिंदी: तो कैसा लगा इतनी सुंदर भूत के साथ काम करने पर?

सूरज: मैं तो देखता ही रह गया. अनुष्का को देख कर लगा ही नहीं था कि वो इतनी मेहनत करती होंगी. अब वो भले ही भूत बनी थीं लेकिन सेट पर तो वो रहती ही थीं.

कभी वो हार्नेस लगा कर इधर से लटकती थीं तो कभी वो उधर से लटकती थीं तो देख कर लगा कि ये बहुत अलग हैं मैं इनके साथ काम कर लूंगा. वो उतना ही खूबसूरती से रिएक्ट करेंगी जितना आप उन्हें कर के दिखाएंगे.

फर्स्टपोस्ट हिंदी: आपने लाइफ ऑफ पाई में काम किया है आपको उस समय कैसे मिली ये फिल्म?

जवाब: आप मुझसे आज भी पूछें या कभी भी पूछें तो मैं कहूंगा कि मुझे नहीं पता कि मुझे ये फिल्म कैसे मिल गई. मैं तो यूं ही मस्ती-मस्ती में ऑडिशन में गया था एक के बाद एक मेरा सलेक्शन होता गया और आखिरकार मैं हीरो बन गया.

फर्स्टपोस्ट हिंदी: सभी लोग नस्लवाद की बात करते हैं कभी आपको इस तरह की किसी मतभेद का सामना करने पड़ा.

सूरज: नहीं. वहां ऐसे कोई नहीं करता और सच कहूं तो कोई इस बारे मे सोचता भी नहीं है. सभी अपने कामों में बिजी रहते हैं और हर तरीके से उम्दा फिल्म बनाना चाहता है.

दर्शक आपको एक खास किस्म के किरदार में देखना चाहते हैं इसलिए वहां आपको रोल मिलता है. हॉलीवुड फिल्मों में भारतीय लोगों के लिए ऑप्शन कम ही होते हैं. जो होते भी हैं उनके लिए कॉम्पिटीशन भी बहुत ज्यादा होता है. हां फिर भी ऐसा कभी नहीं होता कि भारतीय होने के कारण आपको रोल ना मिले.

Suraj Sharma

फिल्म में अनुष्का के साथ लीड रोल में नजर आएंगे सूरज

फर्स्टपोस्ट हिंदी: आपको हॉलिवुड और बॉलिवुड में सबसे बड़ा अंतर क्या देखने को मिला?

सूरज: मेरे हिसाब से वहां पर लोग समस्याओं को ले कर फिल्में बनाते हैं और हमारे देश में फिल्में ऐसी बनती हैं जो आपको समस्याओं से दूर ले जा कर हंसना सिखा दे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi