S M L

Exclusive: शशि कपूर ने पहली फिल्म के लिए मांगे थे सिर्फ 5 हजार

पद्मिनी कोल्हापुरी से लेकर शो मैन सुभाष घई तक सभी ने शशि कपूर के फिल्मों में योगदान को याद किया

Updated On: Dec 05, 2017 12:56 AM IST

Bharti Dubey

0
Exclusive: शशि कपूर ने पहली फिल्म के लिए मांगे थे सिर्फ 5 हजार

शशि कपूर के निधन पर तमाम बॉलीवुड हस्तियां सदमें में हैं. आज फिर से एक युग की समाप्ति हुई है. शशि कपूर के करियर के वो तमाम सितारे जिन्होंने उनके साथ काम किया या फिर उनसे जिनका जुड़ाव रहा आज उन्हें इस बात का यकीन नहीं हो पा रहा कि हकीकत में शशि कपूर इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह गए.

तमाम हस्तियों ने शशि कपूर के मरणोपरांत अपनी श्रद्धांजलि दी है. द शो मैन सुभाष घई ने शशि कपूर के बारे में बोलते हुए कहा कि, 'मैंने उनके साथ दो फिल्मों में 70 के दशक में काम किया है गौतम गोविंदा और क्रोधी. और उनसे काम करने के तरीके के बारे में, प्लानिंग के बारे में और कैसे अनुशासन बनाकर चलना है ये सब सीखा है.

वो बहुत ही ग्राउंड लेवल के इंसान थे जो हमेशा एक अच्छे सिनेमा और थियेटर से प्यार करते थे. वो एक खूबसूरत दिमाग वाले इंसान के साथ बहुत ही हैंडसम जेंटलमैन थे. वो खुद ही एक इंस्टीट्यूट थे जिनसे बहुत कुछ सीखा जा सकता था.' RIP.

वहीं, एक्टर और प्रोड्यूसर असीम छाबड़ा ने शशि कपूर के बारे में कहा कि, 'शशि हमेशा थियेटर की अच्छी कला को बढ़ावा देने के पक्षधर थे. थियेटर ही वो जगह है जहां से उन्होंने एक्टिंग सीखी और अपने लाइफ पार्टनर के तौर पर जेनिफर केंडल को भी पाया. जब शशि का करियर उफान पर था उसी वक्त शशि ने 'पृथ्वी थियेटर' की स्थापना की. ये मुंबई का एकमात्र एक्टिंग इंस्टीट्यूट है जहां एक्टर, डायरेक्टर, लेखक आपस में मिल जाते हैं और इंडियन और इंटरनेशनल प्ले को देखते हैं. पृथ्वी थियेटर की स्थापना कर शशि कपूर ने मुंबई और पूरे हिंदुस्तान को एक बहुत ही नायाब तोहफा दिया है.'

अभिनेता शेखर सुमन ने कहा कि, 'मेरी जिंदगी का बहुत दु:खद दिन है...शशि कपूर अब इस दुनिया में नहीं रहे. मैं अपने करियर के लिए उनका हमेशा ऐहसानमंद रहूंगा. मैंने जो भी मुकाम पाया है उसके लिए उनका बहुत आभारी हूं. उन्होंने 'उत्सव' में मुझे रेखा के अपोजिट लीड रोल करने के लिए पहला और इतना बड़ा ब्रेक दिया. मैं आपको पूरी जिंदगी मिस करूंगा. शशि कपूर बहुत ही हैंडसम आदमी थे. उन जैसा मैंने पूरी इंडस्ट्री में किसी को नहीं देखा. एक जेंटलमैन, एक महान कलाकार और एक जूझारू प्रोड्यूसर. मैं उन्हें देखकर ही बड़ा हुआ और कोशिश की कि उन जैसा दिख सकूं. मैं सोच भी नहीं सकता कि वो अब हमारे बीच नहीं हैं. मेरा दिल टूट गया है.'

बॉलीवुड अभिनेत्री पद्मिनी कोल्हापुरी ने कहा कि, ये बहुत दु:ख की बात है. मेरे दिमाग में उनकी बहुत सारी मेमरीज हैं. वो बहुत ही स्टाईलिश एक्टर थे. मैं उनकी बहुत बड़ी फैन हूं. वो बहुत ही अच्छे इंसान थे. उनसे मैं बहुत ही क्लोज थी क्योंकि मैंने उनके साथ एक फिल्म की थी 'सत्यम' शिवम. सुंदरम. वो मेरे घर भी आया करते थे. वो मुझे 'उत्सव' में लेना चाहते थे. वो एक दौर था जब वो 12-12 फिल्में कर रहे थे. उन्होंने मेरे फादर इन लॉ जगन शर्मा के साथ अपनी पहली फिल्म की थी 'चार दीवारी'.

पद्मिनी के पति और प्रोड्यूसर टुटु शर्मा ने कहा कि, मेरे पिता ने ही शशि कपूर को लॉन्च किया था. शशि कपूर जी ने अपनी पहली फिल्म के लिए पांच हजार रुपये मांगे थे लेकिन मेरे पिता ने कहा कि हीरो पांच हजार नहीं लेता. मैं तुम्हें पच्चीस हजार दूंगा. मैंने भी शशि अंकल के साथ ही अपनी पहली फिल्म की थी. इस फिल्म को मैंने ही प्रोड्यूस किया था. उन्होंने मेरी फिल्म के लिए बहुत ही कम पैसे लिए थे. वो एक महान इंसान थे. अगर शशि अंकल नहीं होते तो मैं प्रोडक्शन में कभी आता ही नहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi