S M L

पद्मावती कॉन्ट्रोवर्सी : 'SC ' की केंद्र सरकार को फटकार, कहा बंद हो मंत्रियों की बयानबाजी

सुप्रीम कोर्ट ने कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों और नेताओं के बयानों पर गहरी नाराजगी जताई है जिन्होंने हाल के दिनों में पद्मावती को लेकर गैर जिम्मेदार बयान दिए

Updated On: Nov 28, 2017 02:06 PM IST

Rajni Ashish

0
पद्मावती कॉन्ट्रोवर्सी : 'SC ' की केंद्र सरकार को फटकार, कहा बंद हो मंत्रियों की बयानबाजी

संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' को लेकर हो रहे विवाद पर देश के सर्वोच्च न्यायालय सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को जमकर फटकार लगाई है. सुप्रीम कोर्ट  ने कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों और नेताओं के बयानों पर गहरी नाराजगी जताई है जिन्होंने हाल के दिनों में पद्मावती को लेकर गैर जिम्मेदार बयान दिए. इस मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सख्त हिदायत दी कि सेंसर बोर्ड की क्लीयरेंस से पहले फिल्म के खि‍लाफ बयानबाजी बंद करें.

' पद्मावती' फिल्म को लेकर छिड़े विवाद के बीच कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों और नेताओं के बयानों पर सुप्रीम कोर्ट ने गहरी नाराजगी जताई है. आजतक.कॉम की खबर के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने  बयानबाजी करने वाले नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि जब यह फिल्म मंजूरी के लिए लंबित है, तब सार्वजनिक पदों पर बैठे लोग कैसे यह बयान दे सकते हैं कि सेंसर बोर्ड को इस फिल्म को पास करना चाहिए या नहीं क्योंकि इससे सेंसर बोर्ड का निर्णय प्रभावित होगा. सुप्रीम कोर्ट ने  ये भी कहा कि इससे सामाजिक सद्भाव को नुकसान पहुंचेगा और यह कानून के सिद्धांत के भी खिलाफ है.

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने ये  टिप्पणी एक जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान की. इस फिल्म को लेकर हो रहे विवाद के बाद से ही कई केंद्रीय मंत्रियों, सांसदों और कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने फिल्म को लेकर विवादित बयान दिए जिससे विवाद और बढ़ गया. इसके अलावा कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने फिल्म को अपने राज्य में रिलीज ना होने देने का भी फरमान सुना दिया था. कुछ नेताओं ने तो बेहद ही आपत्तिजनक बयान देते हुए संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण के सिर और नाक काटने की धमकी तक दे दी.इसके अलावा इन दोनों को नुक्सान पहुंचाने वालों के लिए करोड़ों के इनाम की भी घोषणा की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi