S M L

Interview : मैं एक मिडिल क्लास फैमिली से आता हूं, कभी सोचा नहीं था कि एक्टिंग करूंगा -आरजे अभिलाष थपलियाल

एक मध्यम वर्गीय आर्मी बैकग्राउंड वाले परिवार से ताल्लुक रखने वाले अभिलाष थपलियाल के लिए बॉलीवुड में डेब्यू का ये सफर किसी सपने से कम नहीं है.

Rajni Ashish Updated On: Feb 07, 2018 11:27 AM IST

0
Interview : मैं एक मिडिल क्लास फैमिली से आता हूं, कभी सोचा नहीं था कि एक्टिंग करूंगा -आरजे अभिलाष थपलियाल

अभिलाष थपलियाल को अब तक लोग एक लोकप्रिय आरजे, एक वॉइसओवर एक्सपर्ट और डबिंग आर्टिस्ट के रूप में जानते थे. इसके पहले तक अभिलाष 'मफलर मेन' से लेकर कई वायरल वीडियो कैरेक्टर में अपने श्रोताओं और दर्शकों को मनोरंजन देते आए हैं. लेकिन अब अभिलाष तापसी पन्नू और साकिब सलीम स्टारर फिल्म 'दिल जंगली' के जरिए बॉलिवुड में डेब्यू करने जा रहे हैं. फिल्म का ट्रेलर वायरल हो चुका है और ट्रेलर में अभिलाष की एक्टिंग और उनके डायलॉग सुर्खियां बना रहे हैं. एक मध्यम वर्गीय आर्मी बैकग्राउंड वाले परिवार से ताल्लुक रखने वाले अभिलाष थपलियाल के लिए बॉलीवुड में डेब्यू का ये सफर किसी सपने से कम नहीं है. अभिलाष आम युवाओं के लिए एक प्रेरणा स्रोत हैं हर पल को एन्जॉय करने की चाह रखने वाले मेहनती अभिलाष से हमने खास बातचीत की है. पेश है उसके कुछ खास अंश.

अभिलाष से आरजे अभिलाष बनने का सफर कैसे तय किया ?

Abhilash-Thapliyal-and-Purab-Kohli-4

आपको बताऊं कि मेरे खानदान में दूर दूर तक कोई मीडिया के बारे में जानता तक नहीं था ना कोई कनेक्शन था. मैं एक मध्यम आर्मी बैकग्राउंड फैमिली से ताल्लुक रखता हूं जिसने लगभग पूरा हिंदुस्तान देखा है. मेरा बस ये मानना था कि जिस चीज में मजा आए उसे करना चाहिए और इसके लिए हमेशा मेरे परिवार ने मुझे सपोर्ट दिया. स्कूल में साइंस स्ट्रीम में पढाई कर रहा था लेकिन बहुत जल्द ये पता चल गया था कि अपन डॉक्टर या इंजीनियर बनने से रहे. तो क्यों ना कुछ ऐसा किया जाए जिसमें मजा आए. उस समय रेडियो के बारे में पता चला जिसमें बोलने और गाने बजाने के पैसे मिलने की बात पता चली. फिर क्या था अपन भी लग गए और कॉलेज के दौरान ही हिसार में एक रेडियो ज्वाइन कर लिया. मैं दिल्ली से हिसार आना-जाना करता था. उस वक्त मुझे सैलरी के तौर पर दस हजार रूपये कैश में मिलते हैं. जिस दिन मैं सैलरी लेकर हरियाणा रोडवेज की बस से हिसार से दिल्ली आता था, मेरी हालत खस्ता रहती थी. मुझे लगता था कि किसी को ये ना पता चल जाए कि मेरे बैग में कैश रखा है. मैं रास्ते भर बेचैनी की वजह से किसी तरह अपने बैग को संभालता रहता था.

 

फिर 'मफलर मेन' से लेकर बॉलीवुड की पारी कैसे शुरू हुई?

Abhilash-Thapliyal

अरविंद केजरीवाल की सरकार आई तो मैंने सोचा लालू के बाद अगर इंडियन पॉलिटिक्स में कोई नेता सबसे रोचक है तो वो अरविंद केजरीवाल हैं. फिर मैं 'मफलर मेन' बना और देखते देखते ही ये कैरेक्टर सुपर हिट हो गया. उस समय का वो काफी सधा हुआ पॉलिटिकल सटायर था. मैं दिल्ली में फीवर 104 के लिए रेडियो जॉकी के तौर पर काम कर रहा था. तभी एक बार फिल्म 'तेवर' की टीम हमारे ऑफिस आई. तब मैंने उन लोगों के सामने 'मफलर मेन' के कैरेक्टर को प्ले किया. मेरे इस रोल से फिल्म के डायरेक्टर अमित शर्मा काफी प्रभावित हुए. उन्होंने कहा 'तू रेडियो के लिए नहीं बना, तू विजुअल का बंदा है. तुम मुंबई आओ'. जब मैं मुंबई गया तो मैंने सोचा कि अमित शायद मुझे भूल गए होंगे लेकिन उन्हें जब मैंने फोन किया तो उनके पास मेरा फोन नंबर सेव्ड था. उन्होंने तुरंत मुझे अपने ऑफिस बुला लिया. उस मीटिंग के एक महीने बाद अचानक एक दिन मुझे उनका कॉल आया और उन्होंने मुझे कहा 'तेरे पास पासपोर्ट है क्या?' मैंने कहां- हां लेकिन क्यों? उन्होंने बताया कि उनकी पार्टनर और पत्नी आलिया फिल्म बना रही है तू उसमें काम करेगा क्या ?' और ऐसे हुआ मेरा बॉलीवुड डेब्यू और मैं इसके लिए केजरीवाल को शुक्रियादा करना चाहूंगा जिनकी वजह से मुझे बॉलीवुड में काम मिला

इंडस्ट्री में कोई आपका गॉड फादर नहीं है, ऐसे बॉलीवुड में ने किस तरह से आपका इस्तेकबाल किया?

DTqj3FuW4AAlYYQ

आपको बता दूं मेरी फिल्म 'दिल जंगली' में सभी ऐसे एक्टर्स हैं जो अपने दम पर इंडस्ट्री में आए हैं. चाहे वो तापसी हों या साकिब सलीम. तापसी और मैं तो दिल्ली के रोहिणी से ही हैं. जब हमारी फिल्म का ट्रेलर आया तो कई मीडिया हाउसेस ने मेरे लिए सोशल मीडिया पर ट्वीट्स किए. वहीं तापसी ने मेरे साथ एक बूमरैंग वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए मेरी तारीफ की. यही इसकी खूबसूरती है आप देखिए उन्होंने इतना अच्छा काम किया हुआ है और वो जब मेरी तारीफ करती हैं तो वाकई अच्छा फील होता है. मैंने रेडियो का व्यक्ति हूं मैंने आजतक कैमरा फेस नहीं किया था लेकिन जब मैं इस फिल्म में तापसी और साकिब के साथ काम कर रहा था तो कभी भी मुझे उन लोगों ने ये फील नहीं होने दिया कि मैं नौसिखिया हूं या इंडस्ट्री के बाहर से हूं.

'दिल जंगली' में अपने किरदार के बारे में कुछ बताइए?

मेरे किरदार का नाम प्रशांत है, जो ठेठ दिल्ली वाला है. प्रशांत लाजपत नगर का लड़का है जिसकी मेंटालिटी ये है कि भाई ने भले ही गलत किया हो लेकिन भाई ने किया है तो सब सही है. उसकी लाइफ में कोई टेंशन नहीं है एकदम मस्तमौला है. उसके जीवन का बस एक ही मकसद है प्रॉपर्टी डीलर बनना.

 

तापसी-साकिब और आपका कोई एक गैंग भी है जिसके बारे में आजकल खबरें आ रही हैं ? हां में एक व्हाट्सअप ग्रुप बनाया है जिसका नाम 'लौंडा गैंग' है जिसके तापसी,साकिब और मेरे समेत फिल्म की दो एक्ट्रेसेस मेंबर हैं.हम इस ग्रुप में खूब मजे करते हैं और फिल्म से ज़्यादा दूसरी बातों पर मस्ती लेते हैं.

 

प्रोमो में आपके एक डायलॉग की वजह से कुछ विवाद भी हो गया है, क्या कहना चाहेंगे आप?

कॉन्ट्रोवर्सी तो अपने आप ही बन गई. आप देखिए वो डायलॉग मैंने नहीं बोला है वो उस किरदार 'प्रशांत' ने बोला है जिसकी सेंसिबिलिटीज उसी तरह की हैं. इसलिए वो 'ललिता पवार को कानी' कहता है . हम किसी भी तरह से लोगों के सेंटीमेंट्स को हर्ट नहीं करना चाहते हैं. अब लेकिन मुझे कोई भी क्रिएटिव काम करने से डर लगता है.पता नहीं कब किसको बुरा लग जाएगा?

आगे किन प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहे हैं?

कई और फिल्मों पर बात चल रही है. एक बड़े प्रोडक्शन हाउस से बात चल रही है बहुत जल्द उसका खुलासा करूंगा. एक फिल्म केमीओ भी कर रहा हूं जो जल्द रिलीज होने जा रही है.

रेडियो पर आपको फिर से लोगों की 'शेंडी' लगाते हुए कब सुनेंगे हम?

रेडियो तो पहली आशिकी है.वो तो करना ही है, चाहे कहीं भी चला जाऊं. अभी फिलहाल थोड़ी व्यस्तता ज्यादा है इसलिए रेडियो से थोड़े दिनों के लिए दूर हूं. शेंडी लगाने की वजह से मुझे बहुत गालियां पड़ती थी जिससे अभी मैं बचा हुआ हूं. अब थोड़ा रिलैक्स महसूस कर रहा हूं. लेकिन सोशल मीडिया पर फैंस के लगातार मैसेजेस आ रहे हैं.

टीवी पर आपको कपिल के शो में देखा था, क्या कभी उनके साथ या किसी और टीवी शो में आपको हम देखेंगे?

abhilash

टीवी में मैं अगर किसी के काम से बहुत प्रभावित हुआ हूं तो वो सुनील ग्रोवर के काम से. उनके साथ काम करने की प्रबल इच्छा है जो जरूर पूरी होगी. बस उसी का इंतजार है.

आगे आने वाले वक्त में अपने फिल्मी करियर को किस दिशा में देखते हैं?

सच बताऊं कुछ भी नहीं पता है. एक्टिंग के बारे में कभी सोचा नहीं था कि में कभी फिल्मों में एक्टिंग करूंगा. मैं तो पोस्टर तक मैं छप गया हूं. आगे देखिए किस्मत कहां ले जाती है?

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi